You are here : HomeTech NewsHow Many SIM Cards On One Aadhar Card?

Aadhar Card से अधिकतम कितने SIM Card खरीद सकते हैं?

How-Many-SIM-In-One-Aadhar-Card

क्या आपको पता है, नए नियम के अनुसार आप एक Aadhar Card से अधिकतम कितने SIM Card खरीद सकते हैं? क्या आपको यह भी पता है कि आपका आधार कार्ड इस वक़्त कहाँ-कहाँ इस्तेमाल हो रहा है और किस-किस सर्विस से लिंक्ड है? क्या आपको मालूम है, टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) का सिम कार्ड से संबंधित पुराना नियम बदल चुका है। साथ ही UIDAI का ऑनलाइन पोर्टल भी पूरी तरह बदल गया है। अगर आपको इसकी जानकारी नहीं है तो यह आर्टिकल ख़ास आप ही के लिए है।

Aadhar Card से जुड़ा नियम

टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) ने अपने सिम कार्ड खरीदने संबंधी नियमों में बदलाव करते हुए ग्राहकों को बड़ी राहत दी है। बदले हुए नियम के तहत अब आप एक Aadhar Card से पहले के मुकाबले ज्यादा सिम कार्ड स्वीकृत करवा सकते हैं। यह फैसला छोटे-मोटे व्यवसाईयों, दुकानदारोंं, स्वयं सहायता समूहों और संगठनों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए लिया गया है। इसके अलावा इस नए फैसले से उन लोगों को भी फायदा होगा, जिन्हें ज्यादा मोबाइल कनेक्शंस की जरूरत है। तो आइए, विस्तार से जानते हैं ट्राई के इस नए नियम के बारे में…

यह भी पढ़ें: एक फोन मेंं इस्तेमाल करें 4 व्हाट्सएप अकाउंट्स, यह है सबसे सुरक्षित व आसान तरीका

यह था ट्राई का पुराना नियम :-

ट्राई के पुराने नियम के बारे में तो ज्यादातर लोग जानते हैं। फिर भी मैं आपको बताना चाहूँगा कि पुराने नियम के अनुसार आप एक Aadhar Card से अधिकतम 9 सिम कार्ड खरीद सकते थे। यानि कि यह एक व्यक्ति द्वारा खरीदे जाने वाले SIM Cards की अधिकतम सीमा थी। इसके बाद वह अपने नाम पर दसवां सिम कार्ड नहीं खरीद सकता था। जी हाँ, पुराने नियम के तहत अगर कोई व्यक्ति 9 सिम कार्ड खरीदने के पश्चात दसवां सिम कार्ड खरीदता था तो वह Activate नहीं होता था। लेकिन अब ऐसा नहीं है।

यह है ट्राई का नया नियम :-

ट्राई ने Aadhar Card से खरीदे जाने वाले SIM Cards की संख्या को लेकर नया नियम जारी किया है। इस नियम के तहत एक आधार कार्ड से जारी किए जाने वाले अधिकतम सिम कार्ड्स की संख्या दुगुनी कर दी गई है। TRAI के अनुसार यह फैसला ऐसे लोगों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए लिया गया है, जिन्हें 9 से ज्यादा मोबाइल कनेक्शंस की जरूरत पड़ती है। आपको बताना चाहूँगा कि यह सुविधा सिर्फ व्यवसाईयों और संगठनों के लिए ही नहीं है। बल्कि एक आम उपभोक्ता भी इस सुविधा का लाभ उठा सकता है। ट्राई का यह नियम भारत के प्रत्येक नागरिक के लिए है।

यह भी पढ़ें: अपने एंड्रॉयड स्मार्टफोन की कड़ी सुरक्षा के लिए अपनाऐं ये 10 जरूरी टिप्स

नए नियम के मुताबिक अब आप एक Aadhar Card से कुल 18 सिम कार्ड खरीद सकते हैंं। अगर आपका कोई संगठन, व्यवसाय या कंपनी वगैरह है तो आपको इस नियम से काफी फायदा होगा। साथ ही थोड़ा घाटा भी होगा। कैसे? अगर आप पूरे 18 सिम कार्ड खरीदेंगे तो आपको कम से कम ड्युअल सिम वाले 9 फोन्स की जरूरत पड़ेगी। और सिंगल सिम वाले 18 फोन्स की जरूरत पड़ेगी। मतलब काफी महंगा सौदा है।

खैर, आगे बढ़ते हैं और बात करते हैं Aadhar Card History के बारे में। तो आपको पता होना चाहिए कि आपका आधार कार्ड कहाँ-कहाँ इस्तेमाल हो रहा है? और इस वक्त आपके आधार कार्ड से कौन-कौनसी सर्विसेज लिंक्ड हैं? और जो सर्विसेज लिंक्ड हैं, वे आपने लिंक करवाई हैं या किसी और ने? यानि कि आपके अलावा कोई और तो नहीं है, जो आपके आधार कार्ड को इस्तेमाल कर रहा है? यह सारी जानकारी मिलेगी आधार कार्ड हिस्ट्री से। तो आइए, जानते हैं कि आधार कार्ड हिस्ट्री कैसे पता की जाती है?

Aadhar Card History

आपके Aadhaar Card को कहाँ-कहाँ इस्तेमाल किया गया है और कब-कब किस-किस सर्विस से Link किया गया है, यह आप आसानी से जान सकते हैं। साथ ही अगर आपका Aadhar Card Lost हो गया है और उसका गलत इस्तेमाल हो रहा है तो आप उसे Lock भी कर सकते हैं। खैर, अपने आधार कार्ड की Authentication History जानने के लिए आपको UIDAI Portal (uidai.gov.in) पर जाना है और My Aadhar टैब में मौजूद Aadhar Authentication History के ऑप्शन पर क्लिक करना है (जैसा कि नीचे स्क्रीनशॉट में दिखाया गया है)

UIDAI-Portal
UIDAI (Aadhar Card) )Portal

अब आपके सामने नीचे स्क्रीनशॉट में दिखाए अनुसार एक नया पेज ओपन हो जायेगा। यहाँ पहले खाने में अपना Aadhar Number और दूसरे खाने में Security Code एंटर करके Send OTP के बटन पर Click कर दीजिए। सिक्योरिटी कोड, दूसरे खाने के बिल्कुल सामने कैप्चा इमेज में दिख जाएगा। (जैसा कि नीचे स्क्रीनशॉट में दिखाया गया है)

Aadhar-Authentication
Aadhar Card Authentication

Send OTP पर क्लिक करते ही आपके मोबाइल नम्बर पर एक OTP मैसेज आएगा। इस मैसेज में एक कोड होगा, जिसे संभालकर रखना है। क्योंकि थोड़ी देर में इसकी जरूरत पड़ेगी। खैर, अब आपके सामने एक नया पेज Open हो जाएगा। (जैसा कि नीचे स्क्रीनशॉट में दिखाया गया है)

Aadhar-Card-History
Aadhar Card History

Aadhar Authentication Form

यहाँ आपको 5 डिटेल्स भरनी हैं। सबसे पहले खाने (Authentication Type) में All सलेक्ट करना है। उसके बाद दूसरे खाने में Starting Date और तीसरे खाने में Ending Date दर्ज करनी है। उसके बाद चौथे खाने में Records की संख्या लिखनी है। आपको बताना चाहूँगा कि एक बार में आप अधिकतम 50 रिकार्ड्स ही देख सकते हैं। उसके बाद अंतिम खाने में मैसेज वाला OTP Code डालिए और Verify OTP/TOTP के बटन पर क्लिक कर दीजिए!

अवश्य पढ़ें: फोन खोने या चोरी होने पर CEIR पोर्टल पर सूचना दें, सरकार ढूंढेगी आपका फोन

अब आपके सामने जो नया पेज खुलेगा, उसमें आपके Aadhar Card की पूरी Usage History होगी। यहाँ आप देख पायेंगे कि आपके आधार कार्ड को कब-कब, कहाँ-कहाँ और किसलिए इस्तेमाल किया गया है। यानि की कब Biomatric के लिए इस्तेमाल किया गया है और कब OTP के लिए। अगर आपको कोई असामान्य गतिविधि देखने को मिलती है तो तुरंत अपना Aadhar Card Lock करें। यहाँ Lock करने का मतलब सुरक्षित करना है, न कि Block करना।

Aadhar Card Lock

दरअसल ‘आधार कार्ड लॉक’ Aadhar Card का एक खास सुरक्षा फीचर है। इसकी मदद से आप अपने आधार कार्ड को Lock लगा कर रख सकते हैं। ताकि आपके अलावा कोई दूसरा आपके आधार कार्ड को इस्तेमाल न कर पाए। सुरक्षा के लिए अपने आधार कार्ड को हमेशा Locked रखें और जरूरत पड़ने पर ही Unlock करें। लॉक करने के लिए Aadhar Card Authentication के ऊपर वाले ऑप्शन Lock/Unlock Biomatrics पर क्लिक करें। बाकि प्रोसेस Same है। इसलिए उपर बताए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

उम्मीद करता हूँ यह जानकारी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी! अगर यह आर्टिकल आपको पसंद आया तो इसे Like और Share कीजिए। और ऐसे ही और ज्ञानवर्धक आर्टिकल्स के लिए ‘टेकसेवी डॉट कॉम’ को Subscribe कर लीजिए। ताकि जब भी कोई नया आर्टिकल प्रकाशित हो, आपको उसका Notification मिल जाए।

अवश्य पढ़ें (खास आपके लिए) :-

Comment