You are here : HomeCyber SecurityAndroid Mobile Security

Android Mobile की कड़ी सुरक्षा के लिए अपनाऐं ये 10 जरूरी टिप्स

Android-Mobile-Security-Tips

एंड्राॅयड विश्व का सबसे लोकप्रिय Operating System है। Statcounter के मुताबिक 75 प्रतिशत से ज्यादा स्मार्टफोन Android ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करते हैं। ऐसे में Android Mobile Security बहुत जरूरी है। क्योंकि एंड्रॉयड, हैकर्स की पहली पसंद है। हैकर्स आपके Android Phone में घुसपैठ करके आपका Personal Data आसानी से चुरा सकते हैं। ऐसे में अपने फोन और निजी डाटा को कैसे सुरक्षित रखें? इस विषय में मैं आपको 10 बहुत ही जरूरी Android Mobile Security Tips बताने जा रहा हूँ। कृपया इस आर्टिकल को पूरा पढ़िएगा।

Android Mobile Security 

जैसा कि मैंने बताया Android Operating System सबसे पॉपुलर ऑपरेटिंग सिस्टम है। इसलिए एंड्रॉयड पर आए दिन Cyber Attack होते रहते हैं। हालांकि Google की Android Security Team इन हमलों का जवाब देने के लिए हमेशा मुस्तैद रहती है। लेकिन फिर भी कई बार Hackers अपने मकसद में कामयाब हो जाते हैं। यानि कि वे Android के System में घुसकर यूजर्स का Data चोरी करने में कामयाब हो जाते हैं। अगर आप भी एक Android User हैं तो अपने फोन और डाटा की सुरक्षा के लिए इन 10 Android Mobile Security Tips को जरूर फॉलो करें

1. Download Original Apps

सबसे पहले तो मैं आपको यह बता दूँ कि सबसे ज्यादा Hacking Apps के माध्यम से ही की जाती है। अतः ऐप्स हमेशा Google Play Store से ही डाउनलोड करें। अगर कोई App गूूूगल प्ले स्टोर पर नहीं मिल रही है तो कंपनी की ऑफिशियल वेबसाइट से डाउनलोड करें। थर्ड पार्टी वेबसाइट्स और विशेषकर 9Apps से कभी भी App Download न करें। क्योंकि यहाँ आपको Virus Infected और Malicious Apps मिलती हैं। और इसका ताजा उदाहरण है Agent Smith Virus जो पहली बार 9Apps से ही डाउनलोड किया गया था।

अवश्य पढ़ें: VPN क्या है और इसे कैसे इस्तेमाल करें? क्या VPN यूज करना जरूरी है?

ऐप डाउनलोड करते वक्त App Developer का नाम जरूर चैक करें। किसी थर्ड पार्टी App Developer द्वारा बनाई गई ऐप को डाउनलोड करने से बचें। हमेशा कंपनी की ओरिजनल और ऑफिशियल ऐप ही डाउनलोड करें। खासकर Banking Apps डाउनलोड करते वक्त त़ो यह और भी जरूरी है। क्योंकि हैकर्स मिलते-जुलते नाम वाले Apps का सहारा लेकर आपको नुकसान पहुंचा सकते हैं। इस तरह के ऐप्स आपके फोन में रहकर चुपचाप अपना काम करते हैं और आपका सारा डाटा चोरी करके अपने डेवलपर्स को भेजते रहते हैं। और आपको पता तक नहीं चलता।

2. Read App Permissions

अपने फोन में कोई भी App Install करने से पहले उसकी Permissions जरूर पढ़ें। ताकि आपको पता चल जाए कि वह App आपके फोन से कौन-कौनसी जानकारियाँ एक्सेस करेगी। यदि कोई App जरूरत से ज्यादा परमिशन्स माँगे तो उसे Install करने से बचें। जैसे कि अगर कोई Torch App आपसे Contacts और Messages की परमिशन मांगे, तो समझ जाइए कि वह सिर्फ डाटा चोरी करने के लिए बनाई गई है। क्योंकि Torch App को सिर्फ LED Flash की जरूरत पड़ती है, न कि कॉन्टेक्ट्स और मैसेजेज की। इसीलिए ऐसी Useless Apps को डाउनलोड करने से बचें।

App-Permissions
Cheak App Permissions

3. Cheak App Rating

हर Android App पर उसके उपयोगकर्त्ता (यूजर्स) उस ऐप की कार्यक्षमता, विशेषताऐं तथा कमियों को लेकर टिप्पणी करते हैं। साथ ही अपने Experience के अनुसार ऐप को रेटिंग भी देते हैं जिससे नए यूजर्स को उस App के बारे में कई जरूरी बातें जानने को मिलती है। अगर किसी ऐप की Rating 3 Star से कम है और निगेटिव कमेंट्स की अधिकता हैं तो ऐसे ऐप को इंस्टाॅल न करें। यह आपके फोन के लिए खतरनाक हो सकता है।

4. Protect Your Files

अपने Phone को तो आप Lock रखते ही हैं… फिंगरप्रिंट, फेस रिकग्निशन, पैटर्न, पिन या फिर पासवर्ड लाॅक से। लेकिन अकेला Phone Lock काफी नहीं है। क्योकि फोन में कुछ गोपनीय फोटोज, वीडियोज और डॉक्यूमेंट्स भी होते हैं, जिन्हें अलग से Protection की जरूरत पड़ती है। इसलिए इन्हें अलग से Lock करके रखिऐ। ताकि अगर फोन किसी दूसरे व्यक्ति के हाथ लग जाऐ तो भी वह आपकी गोपनीय फाइलें न देख पाऐ। इसके लिए आपके फोन में दिए गए App Lock फीचर की मदद लें। ध्यान रहे, इसमें Files और Folders को लॉक करने का ऑप्शन भी होना चाहिए।

अवश्य पढ़ें: Dark Web क्या है? इसे Internet की काली दुनिया क्यों कहा जाता है?

अगर आपके फोन में ऐप लॉक का फीचर नहीं है, तो आप प्ले स्टोर से App Lock नामक ऐप डाउनलोड कर सकते हैं। इस ऐप की मदद से आप न सिर्फ ऐप्स को लाॅक कर सकते हैं बल्कि गोपनीय फोटो-विडियोज को भी छुपा सकते हैं। और तो और, खुद इस ऐप को भी छुपा सकते हैं। यानि कि यह आपके फोन में तो रहेगी लेकिन दिखेगी किसी को भी नहीं, आपको भी नहीं। किसी को पता भी नहीं चलेगा कि आपके फोन में यह ऐप है भी या नहीं। Android Mobile Security के लिए यह बहुत अच्छी ऐप है।

5. Backup Of Important Data

अपने फ़ोन में मौजूद महत्वपूर्ण डाटा (Contacts, Messages आदि) का Backup जरूर लें। इसके लिए फोन की सैटिंग्स में मौजूद Auto Backup का ऑप्शन हमेशा चालू रखें। साथ ही बैकअप फाईल को Google Drive पर सेव करते रहें। ताकि फोन खोने या चोरी होने पर आपका Data Safe रहे। और नये फोन में आप फिर से इसी Data को इस्तेमाल कर पाऐं। खासकर जब फोन खो जाता है तो Contacts की बड़ी दिक्कत होती है। नये फोन में फिर से एक-एक कॉन्टेक्ट को सेव करना पड़ता है। इस समस्या से बचने का एक ही उपाय है – बैकअप।

यह भी पढ़ें: एक फोन मेंं इस्तेमाल करें 4 व्हाट्सएप अकाउंट्स, यह है सबसे सुरक्षित व आसान तरीका

6. Update Phone & Apps

आपको समय-समय पर Apps को Update करने के नोटिफिकेशन्स तो जरूर मिलते होंगे। कई लोग इन्हें इग्नोर कर देते हैं, जो सबसे बङी गलती है। कोई भी App एक बार में नहीं बनती। उसे बार-बार टेस्ट करने की जरूरत पङती है। इसके बावजूद उसमें कई कमियाँ रह जाती हैं। और जब भी कंपनी को किसी कमी का पता चलता है, तो उसे दूर करने के लिए कंपनी Update जारी करती है। हर अपडेट में ऐप की कमियों को दूर किया जाता है। साथ ही नये फीचर्स शामिल किए जाते हैं। अतः नोटिफिकेशन मिलते ही ऐप को अपडेट कर लेना चाहिए। Android Mobile Security के लिए यह बेहद जरूरी है।

ठीक ऐप्स की तरह ही Phone को अपडेट करना भी बहुत जरूरी है। फोन बनाने वाली कंपनियाँ समय-समय पर Software Updates या कह लीजिए कि System Updates जारी करती हैं। इन अपडेट्स के जरिए न सिर्फ सिस्टम की कमियों को दूर किया जाता है। बल्कि नये फीचर्स भी दिए जाते हैं। इसके अलावा Google भी हर महिने Android Security Patch जारी करता है। यह एंड्रॉयड की सुरक्षा के लिए सबसे महत्वपूर्ण अपडेट है। इसलिए अपने फोन और ऐप्स को समय-समय पर अपडेट करते रहें। और इस विषय पर ज्यादा जानकारी के लिए यह आर्टिकल पढ़े…

अवश्य पढ़ें : फोन की स्क्रीन से निकलने वाली Blue Light क्या है और इसके क्या-क्या नुकसान हैं?

7. Use Encryption

एनक्रिप्शन एक ऐसी तकनीकी है जिसके माध्यम से अगर आप किसी को संदेश भेजें तो आपके और प्राप्त करने वाले के अलावा कोई अन्य व्यक्ति आपका संदेश नहीं पढ सकता। क्योंकि यह तकनीकी Texts को भद्दे कोड में बदल देती है जिसे किसी भी तरह पढा नहीं जा सकता। इसलिए अपने फ़ोन में Full Device Encryption का इस्तेमाल करेंं। आजकल ज्यादातर Smartphones में एनक्रिप्शन का फीचर आने लगा है। यह फीचर आपको अपने फोन की सेटिंग में मिलेगा। यदि आपके Android Device में यह फीचर नहीं है तो आप Encryption App का इस्तेमाल कर सकते हैं।

8. Avoid Public WiFi

कहीं ऐसा तो नहीं कि Free Wifi नेटवर्क मिलते ही आप अपने फोन को कनेक्ट कर लेते हैं और बिना सोचे-समझे इंटरनेट सर्फिंग शुरू देते हैं। अगर ऐसा है तो सावधान हो जाऐं! यह आपकी Privacy और Security लिए खतरनाक हो सकता है। इसलिए हमेशा Secure Wifi का ही इस्तेमाल करें। ऐसे Wifi Networks से बचें जिनके सुरक्षित होने की आपको सही जानकारी न हो। संवेदनशील डाटा जैसे कि Bank Details, Credit/Debit Card डिटेल्स आदि Public Wifi पर कभी शेयर न करें।

यह भी पढ़ें: Password को Hack कैसे किया जाता है व Safety के लिए क्या उपाय करें?

9. Use Paid Antivirus

वैसे तो एंड्रॉयड काफी सिक्योर ओपरेटिंग सिस्टम है और आपके Android Mobile को किसी भी Antivirus की जरूरत नहीं है। लेकिन अगर आप Unknown Sources के माध्यम से अपने फोन में थर्ड पार्टी ऐप्स को Install करते हैं। या फिर Spam Links को फॉलो करते हैं और वायरस से संक्रमित फाईल्स को डाउनलोड करते हैं तो आप अपने फोन में एक अच्छा-सा Paid Antivirus जरूर रखें। साथ ही उसे समय-समय पर Update करते रहें ताकि वह नए Viruses से लड़ने के लिए हमेशा तैयार रहे। गूगल प्ले स्टोर में मौजूद Free Antivirus Apps किसी काम की नहीं हैं अतः इनके भरोसे न रहें।

10. Third Party Apps & Privacy

एंड्राॅयड Google की संपत्ति है। आप जैसे ही Android Mobile खरीदते हैं, आप गूगल के साथ क़रार में बंध जाते हैं। इस क़रार में यह भी शामिल है कि आप Security के लिहाज से थर्ड पार्टी ऐप्स का प्रयोग न ही करें तो बेहतर होगा। यह आपकी Privacy के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। इसलिए Android Mobile Security के लिहाज से थर्ड पार्टी ऐप्स को Install करने से बचना चाहिए।

Android Mobile Security क्यों जरूरी है?

दरअसल आज के डिजिटल युग में स्मार्टफोन के बिना रह पाना बहुत मुश्किल है। क्योंकि स्मार्टफोन के बिना तो हम सुबह उठते तक नहीं। जब अलार्म बजता है तब तो हम उठते हैं। और फिर दिनभर में कॉल, मैसेजेज, चैट, बैंकिंग – यहाँ तक कि हर काम में स्मार्टफोन हमारी मदद करता है। सच पूछो तो स्मार्टफोन ही हमारा सबसे अच्छा और भरोसेमंद दोस्त है। लेकिन साथ ही यह हमारा जासूस भी है, जो चौबीसों घंटे हमारी जासूसी करता रहता है। यह हर काम में हमारा राजदार है। और हमारे बारे में इतना कुछ जानता है, जितना हम खुद भी नहीं जानते। इसलिए इसकी Security हमारी बहुत बड़ी जिम्मेदारी है।

अवश्य पढ़ें (खास आपके लिए) :-

Comment