You are here : HomeTips & TricksWeb Traffic

Traffic क्या है? अपने Blog पर ज्यादा से ज्यादा Traffic कैसे लें?

Web-Traffic-How-to-get-traffic

मेरे ब्लॉग पर Traffic नहीं आ रहा, मैं क्या करूँ? मैं अपने Blog पर ज्यादा से ज्यादा Traffic कैसे लाऊँ? मेरे Youtube Videos पर Views नहीं आ रहे, मैं क्या करूँ? मैं अपनी Mobile App के Downloads कैसे बढाऊँ? ऐसे ही और भी बहुत सारे सवाल हैं, जो एक Youtuber, Blogger और App Developer को हमेशा परेशान करते रहते हैं। लेकिन इन सवालों का कोई भी संतोषजनक जवाब नहींं मिलता। इसीलिए हमने सोचा कि क्यों न इस विषय पर एक विस्तृत आर्टिकल लिखा जाए। और Traffic की समस्या पर खुलकर बात की जाए। साथ ही इस समस्या का समाधान खोजा जाए।

Web Traffic

जिस तरह हमारी साँसें ऑक्सीजन से चलती है। वैसे ही एक Blog, Youtube Channel और App की साँसें Traffic से चलती हैं। यानि कि Traffic इनके लिए ऑक्सीजन का काम करता है। लेकिन आगे बढ़ने से पहले मैं बताना चाहूँगा कि इस आर्टिकल में Traffic के संदर्भ में Blog, Youtube Channel और App का बार-बार जिक्र आएगा। इसलिए इन तीनों की जगह मैंने Blog शब्द का प्रयोग किया है। आप अपने हिसाब से Blog की जगह Youtube Channel, Website और Mobile App पढ़ सकते हैं।

अवश्य पढ़ें: Youtube चैनल को सफल बनाने के 7 मूलमंत्र, जो आपको कोई नहीं बताएगा

भले ही आप एक Youtuber हों, Blogger हों, या फिर App Developer, कोई फर्क नहीं पड़ता। क्योंकि ट्राफिक की समस्या सबके लिए एक जैसी है। लेकिन सवाल यह है कि इस समस्या का समाधान क्या है? Traffic के इतने सारे Resources उपलब्ध होने के बावजूद सबको पर्याप्त Traffic क्यों नहीं मिलता? आखिर इसकी वजह क्या है? क्या आपने कभी सोचा है कि एक जैसे दो Blogs को एक समान ट्राफिक क्यों नहीं मिलता? एक ब्लॉग को लाखों, तो दूसरे को सिर्फ गिनती के Visitors ही क्यों मिल पाते हैं? क्या Traffic पाने का कोई सीक्रेट रास्ता है, जो सिर्फ बड़े Bloggers को ही पता है? आइए, विस्तार से जानते हैं।

The Secrets of Traffic

ज्यादातर नये Bloggers को लगता है कि Traffic पाने के कुछ ऐसे Secrets हैंं! जिनके बारे में सिर्फ कुछ ही Bloggers जानते हैं। लेकिन वे यह बात किसी को नहीं बताते। क्योंकि ऐसा करने से उनके Competitors बढ़ जाऐंगे। और उनकी जगह ले लेंगे। इसीलिए वे अपने Secrets कभी शेयर नहींं करते। खासकर, जब एक नया Blogger Traffic के लिए ढ़ेर सारे तरीके आजमाकर देख चुका होता है। मगर फिर भी उसके Blog पर Traffic नहीं आता। तो उसे इस बात पर आसानी से यकीन हो जाता है।

अवश्य पढ़ें: Bloggers असफल होकर Blogging क्यों छोड़ देते हैं? – 7 कारण

क्या आपको भी यही लगता है कि बड़े Bloggers के पास वाकई ऐसे Secrets हैं! जो उनके Blog पर ताबड़तोड़ Traffic बरसाते हैं? अगर आपका जवाब हाँँ है, तो आप गलत हैं। क्योंकि ऐसा कोई भी Secret नहीं है, जो एक Blog पर ताबड़तोड़ Traffic ला सके। हाँ, अगर कोई Unethical Methods का इस्तेमाल करे, तो बात अलग है। वरना ऐसा कोई भी Secret नहीं है, जिससे रातों-रात Traffic की बारिश होने लगे। शायद आपको मेरी बात पर यकीन नहीं हो रहा होगा, लेकिन यह सच है।

हर Blogger की अपनी-अपनी Strategy होती है। इसे अगर आप Secret कहना चाहें तो कह सकते हैं। लेकिन इस तरह की Strategy आप भी बना सकते हैं। इसके लिए आपको Reaearch और अनुभव की जरूरत पड़ेगी। साथ ही Traffic के प्रकार और प्रकृति को समझना होगा। अपने और अपने Competitors के Blog Traffic का Analysis करना पड़ेगा। और भी बहुत-सी चीजें हैं, जिनके बारे में हम आगे पढ़ेंगे।

Types of Web Traffic

वेब ट्राफिक को मुख्य रूप से 4 भागों में बांटा गया है:- Organic, Direct, Referral और Social. आप अपने Analytics Account में Login करके देख सकते हैं कि आपके Blog पर कहाँ से कितना Traffic आ रहा है? और उसका Behaviour क्या है?

Techsevi-Traffic-Analysis
Techsevi Traffic Analysis

खैर, आप अपने Blog का Traffic तो रोज चैक करते होंगे? है ना? लेकिन क्या आप ट्राफिक का Analysis भी करते हैं? अगर नहीं करते तो आज से ही शुरू कर दीजिए। क्योंकि Analysis से ही आपको पता चलेगा कि आपकी वास्तविक Audience कौन है? और वह क्या चाहती है? साथ ही उसे Blog पर कैसे लेकर आना है? अगर आप Traffic Strategy बनाना चाहते हैं तो उसके लिए Traffic Analysis बहुत जरूरी है। लेकिन उससे पहले आपको Types of Traffic के बारे में समझना होगा।

1. Organic Traffic

एक ब्लॉग का लगभग 50 से 70% ट्राफिक Search Engines से आता है। और इसी को Organic Traffic कहा जाता है। इसमें सबसे बड़ी भूमिका SEO की होती है। अगर आपके Blog का SEO OK है, तो आपको और कुछ भी करने की जरूरत नहीं है। क्योंकि Search Engines से आपको लगातार Traffic मिलता रहेगा। लेकिन अगर आप SEO पर ध्यान नहीं दे रहे! तो जाहिर सी बात है आपको Organic Traffic का नुकसान उठाना पड़ेगा। इसीलिए SEO पर ध्यान देना जरूरी है।

हालांकि SEO कोई स्विच नहीं है, जिसे दबाया और On हो गया। यह एक लम्बी-चौड़ी प्रकिया है, जिसे सीखने के लिए निरन्तर अभ्यास की जरूरत पड़ती है। लेकिन फिर भी मैं संक्षेप में बता देता हूँ। सबसे पहले अपने Blog को पूरी तरह Setup कीजिए। यानि कि Blog के डिजायन, URL Structure, Categories, Pages आदि को कंपलीट कीजिए। और उसके बाद अपने ब्लॉग का Sitemap Generate करके Google, Yahoo और Bing जैसे Top Search Engines को Submit कीजिए। कंपलीट जानकारी के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक कीजिए।

अवश्य पढ़ें: Sitemap क्या है? खोज इंजनों को Sitemap कैसे सबमिट करें?

उसके बाद अपने Blog पर नियमित रूप से Posts Publish कीजिए। और प्रत्येक Post का Proper SEO कीजिए। यानि कि Post के Title, Tags और Meta Description में सही Keywords का इस्तेमाल कीजिए। और Images व URLs के लिए उचित Anchor Texts का प्रयोग कीजिए। साथ ही URLs के लिए Canonical Tags जरूर इस्तेमाल कीजिए। और हाँ, Breadcrumb और Index of content भी जरूरी है। क्योंकि Google इन चीजों को काफी महत्व देता है। अगर एक बार के लिए आप इतना भी कर लेंगे, तो काफी है।

2. Direct Traffic

जो लोग URL टाईप करके डायरेक्ट आपके ब्लॉग पर आते हैं, वे Direct Traffic में गिने जाते हैं। हालांकि इस तरह के विजिटर्स बहुत कम होते हैं। लेकिन Brand Value के लिए बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। क्योंकि Direct Traffic से ही पता चलता है कि आपके Content में कितना दम है? अगर आपका Content अच्छा है, और Readers के लिए उपयोगी है! तो जाहिर-सी बात है रीडर्स आपके Blog पर बार-बार आऐंगे। वरना कोई भी लौटकर नहीं आएगा।

इसीलिए हमेशा Informative, Engaging और Helpful Content लिखिए। ताकि जो भी आपके ब्लॉग पर आए, वह आपका Fan हो जाए। और बार-बार आपके Blog पर आना चाहे। Direct Traffic का असली मतलब भी यही है। यानि कि जो लोग आपके Content को पसंद करते हैं, वे आपके Blog पर बार-बार आते हैं। और उन्हें आपके ब्लॉग का एड्रेस (URL) जबानी याद होता है। इसीलिए वे डायरेक्ट URL टाईप करके आपके ब्लॉग पर आते हैं।

अवश्य पढ़ें: Video SEO : Content Optimization क्या है और यह कैसे किया जाता है?

सच पूछो तो Direct Traffic ही आपकी Loyal Audience होती है। लेकिन Loyal Audience Build करने के लिए आपका Content शानदार होना चाहिए। आपका Content जितना Unique, Informative, Engaging और Helpful होगा। आपका Direct Traffic उतना ही बेहतर होगा।

3. Referral Traffic

जो ट्राफिक External Sources से रेफर होकर आपके ब्लॉग पर आता है, वह Referral Traffic कहलाता है। जैसे कि अगर मेरी वेबसाइट पर आपके ब्लॉग का लिंक है। और कोई उस लिंक पर क्लिक करके आपके ब्लॉग पर जाता है! तो वह Referral Traffic में गिना जाएगा। किसी Blog का दूसरे Blogs और Websites के साथ कैसा संबंध है? और कितने Blogs और Websites उस Blog को Referral Link देते हैं? यह उसके Referral Traffic से ही पता चलता है।

Referral Traffic लाने में Backlinks की बहुत बड़ी भूमिका होती है। इसीलिए एक Blogger को चाहिए कि वह Link Building पर काम करे। और ज्यादा से ज्यादा Backlinks बनाऐ। बैंकलिंक्स बनाते वक्त Quality का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। क्योंकि Low Quality Backlinks फायदे की जगह उल्टा नुकसान पहुँचाती हैं। Backlinks के लिए हमेशा ऐसे Blogs और Websites का चुनाव करना चाहिए! जिनका DA-PA अच्छा हो।

अवश्य पढ़ें: Video SEO : Title, अपने Videos के लिए Best Title कैसे लिखें?

मैंने देखा है कि कुछ Blogger को जहाँ जगह मिलती है, वहीं अपने ब्लॉग का लिंक चिपका देते हैं। भले ही वह किसी की Facebook Post ही क्यों न हो। असल में इसे Link Building नहीं, बल्कि Spam कहते हैं। और इससे न सिर्फ आपके Blog की ईमेज खराब होती है। बल्कि Spam Scrore भी बढ़ता है। इसलिए Link Building से पहले Research करना बहुत जरूरी है। क्योंकि रिसर्च से ही पता चलता है कि High DA-PA और Same Niche के Blogs कौन-कौनसे हैं? और उनसे Backlink प्राप्त करने का तरीका क्या है?

4. Social Traffic

सोशल ट्राफिक का मतलब है, Social Media से आने वाला ट्राफिक। अर्थात Facebook, WhatsApp और Twitter जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स से आने वाला ट्राफिक। हालांकि Social Media पर ट्राफिक की कोई कमी नहीं है। लेकिन फिर भी यहाँ से Traffic लेना कोई आसान काम नहीं है। क्योंकि Social Media पर लोग मौज-मस्ती और टाईम पास करने के लिए आते हैं। ऐसे में उन्हें Blog पर लेकर जाना आसान काम नहीं है। इसके लिए सही Strategy की जरूरत पड़ती है।

हालांकि Social Media से Traffic लेना थोड़ा मुश्किल जरूर है, लेकिन नामुमकिन बिल्कुल नहीं है। अगर आप ढूँढना शुरू करेंगे तो Social Media पर आपको खेल से राजनीति और मनोरंजन से लेकर टेक्नोलॉजी तक हर क्षेत्र के लोग मिल जाऐंगे। आपको बस अपनी पसंदीदा Audience को ढूँढना है। उन Pages और Groups से जुड़ना है, जो आपके Blog के Niche से मेल खाते हैं।

अवश्य पढ़ें: Video SEO : Description में कौन-कौनसी 10 चीजें लिखना जरूरी हैं?

एक बार Groups और Pages से जुड़ने के बाद आप अपनी पसंदीदा Audience तक पहुंच जाऐंगे। लेकिन आपको इस बात का खास ध्यान रखना है! कि किसी Page, Group या Community से जुड़ते ही वहाँ दनादन अपने Blog का Link शेयर नहीं करना है। नहीं तो आपको Ban कर दिया जाएगा। पहले आपको कुछ दिनों तक सिर्फ काम की जानकारी शेयर करनी है। और Group AdminModerators का विश्वास जीतना है। साथ ही Active Members के साथ मेलजोल बढ़ाना है।

Share Your Links

जब एक Page, Group या Community में आपकी अच्छी-खासी जान-पहचान हो जाए! तो आप अपने Blog का लिंक शेयर करना शुरू कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे, हफ्ते में सिर्फ एकाध लिंक ही Share करना है, ज्यादा नहीं। क्योंकि इससे बना-बनाया काम बिगड़ सकता है। इसीलिए ज्यादा लिंक्स शेयर करने से बचें। और सिर्फ ऐसे लिंक्स शेयर करें, जो उस Page, Group अथवा Community से रिलेटेड हों। और Members के लिए उपयोगी हों।

अवश्य पढ़ें: Online Earning Apps, ऑनलाइन कमाई के लिए टॉप-5 ऐप्स

Social Media पर सिर्फ अकाउंट बनाना ही काफी नहीं है। बल्कि नियमित रूप से Status Update करना और Followers के साथ Interact करना भी जरूरी है। क्योंकि Audience Build करने के लिए Engagement बहुत जरूरी है। इसीलिए अपने Followers के साथ बातचित कीजिए। उनके Comments और Messages का Reply कीजिए। और उनके सवालों का जवाब दीजिए। साथ ही उन्हें Like, Comment और Share करने के लिए प्रोत्साहित कीजिए।

Paid Traffic

अगर आप कम समय में जल्द से जल्द Grow करना चाहते हैं। या जल्द से जल्द पॉपुलर होना चाहते हैं तो आप Paid Traffic ले सकते हैं। यानि कि Advertising के जरिए Traffic खरीद सकते हैं। लेकिन इसके लिए आपके पास अच्छा-खासा बजट होना चाहिए। क्योंकि आपको एक-एक क्लिक की कीमत चुकानी पड़ेगी। हालांकि Business और Startups इस काम के लिए अलग से Budget रखते हैं। लेकिन एक Individual Blogger के लिए यह काफी महंगा सौदा है। इसीलिए अगर आप Paid Traffic की बजाय Organic Traffic पर फोकस करें! तो ज्यादा बेहतर है।

Web Traffic Metrics

Blog Traffic का नियमित रूप से Analysis करना बहुत जरूरी है। क्योंकि बिना एनालिसिस के न तो आप Traffic की सही स्थिति को समझ सकते हैं। और न ही आगे की Strategy बना सकते हैं। इसीलिए Analysis जरूर करें। इस काम के लिए आप Google Analytics की मदद ले सकते हैं। यह एक मुफ्त और उपयोगी Tool है, जो इस्तेमाल करने में काफी आसान है। इसकी मदद से आप अपने Blog Traffic की बारीक से बारीक से Details जान सकते हैं। और सही Strategy बना सकते हैं।

अवश्य पढ़ें: Truecaller का उपयोग करना कितना घातक हो सकता है? और कैसे?

जैसा कि मैं उपर बता चुका हूँ कि एक Blog का आधे से ज्यादा ट्राफिक Search Engines से आता है। और इसके लिए ब्लॉग का SEO जिम्मेदार होता है। लेकिन अगर आपके Blog पर 40% या इससे भी कम Organic Traffic आ रहा है! तो जाहिर-सी बात है कि आपको SEO पर काम करने की जरूरत है। वहीं अगर Direct Traffic कम है! तो Content और उसकी Quality पर ध्यान देने की जरूरत है।

आपकी Audience कौन है? और वह क्या चाहती है? इसकी जानकारी के लिए आप Google Analytics Report की मदद ले सकते हैं। एनालिटिक्स रिपोर्ट में आपको अपने Visitors के Engagement, Behaviour, Location, Keywords, Device Type, Visit Time, New Users, Returning Users, Bounce Rate, Browser, Network, Landing Pages, Exit Pages और Favourite Pages के बारे में पता चलेगा। जिससे आप बेहतर Panning कर पाऐंगे।

Summary

हर Blogger यही चाहता है कि उसके Blog पर ज्यादा से ज्यादा Traffic आए। लेकिन Blog शुरू करते ही ट्राफिक की बाढ़ नहीं आ जाती। Traffic आने में समय लगता है! शुरू के 4-6 महीने आपको कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। यानि कि अच्छा Content लिखना पड़ता है। Proper SEO करना पड़ता है। Backlinks बनानी पड़ती है। Marketing करनी पड़ती है। तब जाकर धीरे-धीरे Traffic आना शुरू होता है। लेकिन अगर आप चाहते हैंं ब्लॉग शुरू करते ही Traffic का तांता लग जाए! तो यह संभव नहीं है।

यह Web Traffic के बारे में एक छोटा-सा परिचय था। बाकी हम आने वाले Articles में एक-एक Topic पर विस्तार से चर्चा करेंगे। उम्मीद है इस आर्टिकल के जरिए आपको Web Traffic Kya Hai? यह कितने प्रकार का होता है? और एक Blog, Youtube Channel अथवा Mobile App पर ज्यादा से ज्यादा Traffic कैसे ले सकते हैं? इस विषय में उपयोगी जानकारी मिली होगी। अगर यह आर्टिकल आपको पसंद आया तो इसे Like और Share कीजिए। और ऐसे ही ज्ञानवर्धक आर्टिकल्स के लिए टेकसेवी डॉट कॉम को Subscribe कर लीजिए। ताकि जब भी हमारा नया आर्टिकल प्रकाशित हो, आपको उसका नोटिफिकेशन मिल जाए।

अवश्य पढ़ें (खास आपके लिए) :-

Comment