You are here : HomeExplanationYoutube Community Guidelines Strike

Youtube Community Guidelines Strike क्या है? इससे कैसे बचें?

Youtube-Community-Guidelines-Strike-In-Hindi

कोई भी Youtuber यह नहीं चाहता कि उसके चैनल पर Strike आए। क्योंकि यह एक तरह की सजा होती है, जो यूट्यूब द्वारा Community Guidelines और Copyright नियमों का उल्लंघन करने पर दी जाती है। इसीलिए हर Youtuber इससे बचना चाहता है। लेकिन कई बार जानकारी के अभाव में ऐसी गलतियाँ हो जाती हैं। जिनकी वजह से Channel पर Strike आ जाती है। इसीलिए एक Youtuber को पता होना चाहिए कि Youtube Community Guidelines Strike क्या होती है? यह कब मिलती है? और इससे कैसे बचा जा सकता है?

Community Guidelines Strike

दरअसल Youtube पर दो तरह की Strikes होती हैं। एक Copyright Strike, और दूसरी Community Guidelines Strike. कॉपीराइट स्ट्राइक उन लोगों को मिलती है, जो दूसरों का Content चोरी करते हैं। वहीं कम्यूनिटी गाइडलाइन स्ट्राइक में कई सारी चीजें आती हैं। और इन्हीं सब चीजों के बारे में हम इस आर्टिकल में विस्तार से चर्चा करने वाले हैं। तो अगर आप एक Youtuber हैं, और Youtube Community Guidelines Strike के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं, तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़िए।

Community Guidelines Strike क्या है?

कम्युनिटी गाइडलाइंस स्ट्राइक, Youtube द्वारा दी जाने वाली एक सजा (Punishment) है। जो Community Guidelines का उल्लंघन करने पर दी जाती है। लेकिन सवाल यह है कि यह Community Guidelines है क्या? और इसका उल्लंघन कैसे होता है? यानि कि क्या करने पर उल्लंघन होता है? और क्या करने पर उल्लंघन नहीं होता? साथ ही इससे बचें कैसे? तो इसका जवाब बहुत ही आसान है।

अवश्य पढ़ें: Video SEO क्या है? अपने Youtube वीडियोज का SEO कैसे करें?

जिस तरह आप अपने समाज के नियम-कायदों को फॉलो करते हैं। वैसे ही Youtube Community के भी कुछ नियम-कायदे हैं, जिन्हें हर यूजर को फॉलो करना पड़ता है। इन्हीं नियम-कायदों को Youtube Community Guidelines कहा जाता है। यह दरअसल नियमों का एक सेट है, जो आपको यह बताता है कि Youtube को कैसे इस्तेमाल करें? यानि कि यूट्यूब पर क्या करें और क्या नहीं? जब आप इन नियमों का उल्लंघन करते हैं, तो आपको इसकी सजा मिलती है। जिसे Community Guidelines Strike कहा जाता है।

Youtube Community Guidelines

यूट्यूब कम्युनिटी गाइडलाइंस में कई सारी चीजें शामिल हैं। जैसे कि Youtube पर क्या करना चाहिए? क्या नहीं करना चाहिए? क्या सही है? क्या गलत है? कब Strike मिलती है? कब चैनल डिलीट होता है? वगैरह-वगैरह। अगर आप सोच रहे हैं कि कम्युनिटी गाइडलाइंस सिर्फ Creators के लिए है। तो आप गलत सोच रहे हैं। क्योंकि कम्युनिटी गाइडलाइंस हर उस User के लिए है, जो Youtube इस्तेमाल करता है। तो आइए, Youtube Community Guidelines के नियम व शर्तों को विस्तार से जानते हैं।

Spam & Deceptive Content

यूट्यूब पर Spam & Deceptive Content पोस्ट करना मना है। यानि कि आपके वीडियोज में ऐसी कोई भी जानकारी नहीं होनी चाहिए। जो Users को गुमराह करती हो या उन्हें नुकसान पहुंचाती हो। इस कैटेगरी में मुख्यत: ये चार चीजें आती हैं :-

1. Spam Videos

Youtube Community Guidelines के अनुसार Spam Videos में निम्नलिखित चीजें शामिल हैं :-

  • वीडियो के Title, Thumbnail, Tags और Description में ऐसी जानकारी देना, जो कि Video में नहीं है।
  • यूजर्स को गुमराह करके दूसरी Websites पर ले जाना। और उनसे Views और Traffic लेना। या पैसे ऐंठना।
  • यूजर्स को मैलवेयर वाली Websites पर ले जाकर उनका Personal Data चोरी करना।
  • जोड़-तोड़कर बनाए गए वीडियोज, जिनका कोई विश्वसनीय स्त्रोत न हो। साथ ही जो यूजर्स गुमराह करें या नुकसान पहुँचाऐं।
  • ऐसे Videos, जिनमें यूजर्स को पैसे कमाने या ‘कम समय में अमीर बनने’ की स्कीम बताई गई हो। और ज्यादा से ज्यादा लोगों को उस स्कीम से जोड़ने की अपील की गई हो। जैसे कि पिरामिड स्कीम, चैन सिस्टम, जुआ, सट्टा आदि।
  • Hacking से संबंधित Videos, जिनमें हैकिंग का Live Demonstration करके दिखाया गया हो। या Modified Softwares और Pirated Content को बढ़ावा दिया गया हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं में दखलंदाजी के लिए उकसाया गया हो। जैसे कि चुनावी प्रक्रिया में पक्षपात करने, Voters को बरगलाने और किसी खास उम्मीदवार को वोट देने के लिए उकसाना।
  • ऐसे Comments, जिनमें एक ही चीज को बार-बार दोहराया गया हो। या किसी दूसरे चैनल या वेबसाइट की Links दी गई हो, जो यूजर्स को किसी प्रतिबंधित वेबसाइट पर ले जाती हो।
  • Live Stream का अपने फायदे के लिए गलत इस्तेमाल करना।

2. Fake Engagement

Youtube Community Guidelines के अनुसार निम्नलिखित चीजें Fake Engagement की श्रेणी में आती हैं :- 

  • अनैतिक तरीकों से Views, Subscribers और Watch Time बढ़ाना।
  • किसी Third Party Website से पैसे देकर Views और Subscribers खरीदना।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें किसी Third Party Website से Views और Subscribers खरीदने का दावा किया गया हो। और Users को उस वेबसाइट पर जाकर Views और Subscribers खरीदने की सलाह दी गई हो।
  • Sub4Sub अर्थात् Subscribe के बदले Subscribe करना या करवाना भी Fake Engagement की श्रेणी में आता है। और यह Youtube Community Guidelines का उल्लंघन है।

3. Impersonation

Impersonation का मतलब है किसी की पहचान चुराना। अर्थात किसी और के नाम से अकाउंट या चैनल बनाना। Youtube Community Guidelines के अनुसार निम्न चीजें Impersonation की श्रेणी में आती हैं :-

  • ऐसा चैनल, जो किसी दूसरे Youtube Channel का नाम, प्रोफाइल, Background और रंग-रूप इस तरह Copy करे कि वह ऑरिजनल चैनल जैसा दिखाई दे।
  • किसी Famous Creator, एक्टर, Politician अथवा Brand के नाम से फर्जी अकाउंट बनाना। और उसका नाम, इमेज और Logo इस्तेमाल कर खुद को असली बताना।
  • किसी का Fan Account बनाकर खुद का Content पोस्ट करना। और उसे अपना Channel बताना। 

4. Spam Links

Youtube पर Spam Links पोस्ट करने की अनुमति नहीं है। इस कैटेगरी में कुछ इस तरह की लिंक्स आती हैं :-

  • पोर्न वेबसाइट्स के लिंक।
  • Malware Install करने वाली Apps और Websites के लिंक।
  • Fishing Websites के लिंक, जो Users की Login और Financial Details चोरी करती हों।
  • उन ऐप्स और वेबसाइट्स के लिंक, जो Paid Content को गैरकानूनी तरीके से मुफ्त में उपलब्ध करवाती हैं।
  • उन वेबसाइट्स के लिंक, जो आतंकवादी संगठनों के लिए Fund जुटाने और लोगों को भर्ती करने का काम करती हो।

Sensitive Content

यूट्यूब पर Sensitive Content को लेकर एक स्पष्ट गाइडलाइन है। और इस गाइडलाइन का हर User और Creator को सख्ती से पालन करना चाहिए। क्योंकि इसमें बच्चों की सुरक्षा, निजता, आत्महत्या और चरित्र हनन जैसे संवेदनशील मुद्दे शामिल हैं। इस कैटेगरी में मुख्य रूप से ये चार चीजें शामिल हैं:-

1. Nudity & Sexual Content

Youtube Community Guidelines के अनुसार यूट्यूब पर Sexual Content अपलोड करना मना है। अगर आप ऐसा करते हैं तो आपका Youtube Channel हमेशा के लिए बंद किया जा सकता है। Nudity & Sexual Content में निम्नलिखित चीजें शामिल हैं :-

  • ऐसे वीडियोज, जिनमें यौन संतुष्टि के लिए जननांगों, स्तनों और नितम्बों को दिखाया गया हो। या फिर यौन भावनाओं को भड़काने के लिए कोई Sexual Act किया गया हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें यौन संतुष्टि के मकसद से एनिमेटेड पोर्नोग्राफी, चाईल्ड पोर्नोग्राफी, जानवरों के साथ सेक्स करते हुए, Sex Toys को इस्तेमाल करते हुए और जननांगों को सहलाते हुए दिखाया गया हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें बिना सहमति के शारीरिक संबंध बनाते हुए (यौन-शोषण करते हुए) दिखाया गया हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें किसी मशहूर हस्ती को कपड़े सरक जाने की वजह से शर्मिंदा होते हुए दिखाया गया हो।
  • छुपकर रिकॉर्ड की हुई Videos, जिनमें किसी महिला या पुरूष को नहाते हुए या बिना कपड़ों के आपतिजनक अवस्था में दिखाया गया हो।
  • कामुकता का प्रदर्शन करना, जननांगो की तरफ ध्यान खींचना, सहलाना, टटोलना, पैंट या स्कर्ट को नीचे खिसकाना, यौन गतिविधि देखकर संतुष्ट होते हुए दिखाना और बिना अनुमति के किसी को यौन अवस्था में दिखाना Sexual Content की श्रेणी में आता है।

2. Custom Thumbnails

यूट्यूब पर Custom Thumbnails को लेकर भी एक स्पष्ट गाइडलाइन है। जिसमें यह बताया गया है कि किस तरह के थम्बनेल्स, Youtube Community Guidelines का उल्लंघन करते हैं। तो आइए, जानते हैं :-

  • ऐसे थम्बनेल, जिनमें यौन गतिविधियों, जननांगो, और यौन भावनाओं को भड़काने वाली Pornographic Image लगी हो।
  • ऐसे थम्बनेल, जिन्हें देखकर यूजर को लगे कि वीडियो में भी वैसा ही देखने को मिलेगा, जैसा कि Thumbnail में दिखाया गया है। लेकिन Video में वैसा कुछ भी नहीं होता।
  • ऐसे थम्बनेल, जिनमें हिंसा, मर्डर, खून-खराबा और सुसाइड के खौफनाक, दिल दहला देने वाले और घिनौने दृश्य हो।
  • ऐसे Thumbnails, जिनमें किसी हत्या, आत्महत्या, और यौन-शोषण के पीड़ित (Victim) को दिखाया गया हो।

3. Child Safety

बाल-सुरक्षा (Child Safety) एक बहुत ही संवेदनशील विषय है। इसीलिए इसे गंभीरता से लें। Youtube पर ऐसा कोई भी Comment या Video पोस्ट न करें, जिससे बच्चों की सुरक्षा को खतरा हो। Youtube Community Guidelines के अनुसार Youtube पर इस तरह का Content पोस्ट करना मना है :-

  • ऐसे वीडियोज, जिनमें बच्चों के साथ मारपीट, हिंसा, शारीरिक शोषण और यौन-उत्पीड़न करते हुए दिखाया गया हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें बच्चों को गलत तरीके से चूमते या सहलाते हुए दिखाया गया हो। या उन्हें ऐसा करने के लिए उकसाया गया हो, या चुनौती दी गई हो।
  • बालश्रम को बढ़ावा देने वाले वीडियोज, जिनमें बच्चों को कठोर परिश्रम और जोखिम भरे काम करते हुए दिखाया गया हो।
  • पारिवारिक कार्यक्रमों में सेक्सुअल और वयस्क थीम वाली सामग्री दिखाना, जो बच्चों का ध्यान खींचने के लिए बनाई गई हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें बच्चों के साथ बुरा बर्ताव, गाली-गलौच, मारपीट और हिंसा करते हुए दिखाया गया हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें बच्चों को खतरनाक स्टंट करते हुए, हथियार व विस्फोटक इस्तेमाल करते हुए तथा शराब, निकोटिन, और ड्रग्स का सेवन करते हुए दिखाया गया हो।
  • इंटरनेट पर बच्चों को ऑनलाइन धमकी देना, उन पर नजर रखना, Track करना, Data चोरी करना और यौन उत्पीड़न के उकसाना या मजबूर करना भी Child Safety के अंतर्गत आता है।

4. Self Harm

दरअसल Youtube ऐसा Content पोस्ट करने की अनुमति नहीं देता, जो Self Harm को बढ़ावा देता हो। Youtube Community Guidelines के अनुसार ऐसे वीडियोज Self Harm की कैटेगरी में आते हैं :-

  • आत्महत्या (Suicide) को बढ़ावा देने वाले वीडियोज।
  • आत्महत्या को Glorify (महिमामंडित) करने वाले वीडियोज।
  • खुद को नुकसान पहुंचाने और आत्महत्या के लिए प्रेरित करने वाले वीडियोज।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें किसी को आत्महत्या करते हुए दिखाया गया हो। या आत्महत्या करने के तरीके बताए गए हों।

Violent & Dangerous Content

Youtube पर ऐसे Content की अनुमति नहीं है। जिससे गंभीर शारीरिक चोट अथवा मृत्यु का जोखिम हो। इस कैटेगरी में निम्नलिखित चीजें शामिल हैं :-

1. Harmful & Dangerous Content

Youtube Community Guidelines के अनुसार निम्नलिखित वीडियोज Harmful & Dangerous Content की श्रेणी में आते हैं :-

  • ऐसे वीडियोज, जिनमें किसी को शारीरिक चोट पहुंचाने, घायल करने और जान से मारने के तरीके बताए गए हों।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें हिंसक घटनाओं का प्रचार-प्रसार किया गया हो। या उन्हें Glorify करके दिखाया गया हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें खतरनाक हथियारों का इस्तेमाल करते हुए या उन्हें बनाते हुए दिखाया गया हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें नशीली दवाओं (चरस, कोकीन, हेरोइन आदि) का सेवन करते हुए या बनाते हुए दिखाया गया हो।
  • खतरनाक इलाज और दवाओं का प्रचार-प्रसार करने वाले वीडियोज।

2. Violent or Graphic Content

Youtube पर ऐसे Videos की अनुमति नहीं है। जिनमें हिंसा और खून-खराबा दिखाया गया हो। या दूसरों को हिंसा के लिए उकसाया हो। इस कैटेगरी में निम्नलिखित चीजें शामिल हैंं :-

  • किसी व्यक्ति, धर्म अथवा समुदाय के खिलाफ हिंसा के लिए उकसाने वाले वीडियोज।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें डरावनी तथा घिनौनी चीजें दिखाई गई हों। जैसे कि खून, उल्टी, सड़क दुर्घटनाऐं, आतंकी हमले, लड़ाई-झगड़े, मारकाट, बलि, यातनाऐं, लाशें, कटे हुए अंग, जानवरों पर अत्याचार, मेडिकल प्रोसेस, पोस्टमार्टम आदि।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें किसी इंसान या जानवर को लड़ने के लिए प्रोत्साहित या मजबूर किया गया हो।
  • नाबालिग बच्चों के बीच लड़ाई-झगड़े वाली वीडियोज।

3. Violent Criminal Organization

Youtube पर आपराधिक संगठनों की तारीफ करने, प्रचार-प्रसार करने और मदद करने के इरादे से बनाए गए वीडियोज को पोस्ट करने की अनुमति नहीं है। Youtube Community Guidelines के अनुसार इस कैटेगरी में निम्नलिखित चीजें शामिल हैं :-

  • आतंकवादी संगठनों द्वारा बनाए गए Videos को बिना Edit किए मूल रूप में अपलोड करना।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें आतंकवादी संगठनों की विचारधारा का समर्थन और प्रचार-प्रसार किया जा रहा हो। और यूजर्स को उनकी वेबसाइट्स पर भेजकर संगठन में भर्ती होने के लिए उकसाया जा रहो हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें किसी आतंकवादी या आपराधिक संगठन के लिए उत्सव या जश्न मनाया जा रहा हो।

4. Hate Speech

Youtube पर नफरत फैलाने वाली भाषा का इस्तेमाल करना मना है। किसी की आयु, रंग-रूप, जाति, धर्म, जेंडर, दिव्यांगता, राष्ट्रीयता, नस्ल, सेक्सुअल ओरिएंटेशन, इमिग्रेशन की स्थिति और किसी बड़ी घटना के पीड़ितों का मजाक बनाना या उनके बारे में गैरजिम्मेदाराना तरीके से टिप्पणी करना गलत है। Youtube Community Guidelines के अनुसार निम्नलिखित चीजें Hate Speech में आती हैं :-

अवश्य पढ़ें: Youtube चैनल को सफल बनाने के 7 मूलमंत्र, जो आपको कोई नहीं बताएगा

  • उपर बताई गई विशेषताओं के आधार पर किसी व्यक्ति या समुदाय के खिलाफ नफरत फैलाना, हिंसा के लिए उकसाना, मजाक उड़ाना, नीचा दिखाना, अपमानित करना और उसकी तुलना किसी जानवर या गैर-इंसानी चीज से करना।
  • उपर बताई गई विशेषताओं के आधार पर किसी एक समूह को श्रेष्ठ बताना। जबकि दूसरे समूह को कमतर, कम समझदार, कमजोर, बीमार, नालायक या कम काबिल बताना।
  • किसी एक समूह पर दूसरे समूह के नियंत्रण या वर्चस्व को सही ठहराना और उसकी तारीफ करना।
  • किसी एक समूह द्वारा दूसरे समूह के लोगों के साथ हिंसा, मारपीट और गाली-गलौच का समर्थन करना और उसे सही ठहराना।

5. Harassment & Cyberbullying

Youtube पर ऐसे कॉन्टेंट की अनुमति नहीं है, जिसमें किसी को ऑनलाइन परेशान करना गाली-गलौच करना, फिरौती मांगना और धमकी देना शामिल हो। Youtube Community Guidelines के अनुसार निम्नलिखित चीजें Harassment और Cyberbullying की श्रेणी में आती हैं :-

  • किसी का ऑनलाइन पीछा करना, छेड़ना, परेशान करना, धमकी देना, गाली-गलौच करना, अपमानित करना, चरित्र पर उंगली उठाना, बेबुनियाद आरोप लगाना, अश्लील टिका-टिप्पणी करना और फिरौती मांगना।
  • साफ तौर पर पहचान में आने वाले व्यक्ति की हत्या होते हुए दिखाना। या उसे बुरी तरह घायल अवस्था में दिखाना।
  • साफ तौर पर पहचान में आने वाले व्यक्ति को यौन गतिविधि में लिप्त दिखाना।
  • Morphed Photos और Videos, जिनमें किसी व्यक्ति के चेहरे को किसी और की फोटो पर चिपकाकर अपमानित करना।
  • बिना अनुमति किसी की Photo और Video को Edit करके Upload करना। और उसे नीचा दिखाना।
  • किसी व्यक्ति या समुदाय के बारे में झूठा दावा करना कि वह मानव-तस्करी में लिप्त है। या किसी आपराधिक संगठन या गिरोह से जुड़ा हुआ है।
  • किसी व्यक्ति को बार-बार निशाना बनाना, उसका मजाक उड़ाना या अपमानित करना।

Regulated Goods

Youtube पर गैर-कानूनी और प्रतिबंधित सेवाओं को बेचने की अनुमति नहीं है। इसमें वे सभी वस्तुऐं और सेवाऐं शामिल हैं, जो सरकार द्वारा प्रतिबंधित हैं। Youtube Community Guidelines के अनुसार निम्नलिखित वस्तुऐं और सेवाऐं Regulated Goods की श्रेणी में आती हैं :-

1. Regulated Goods

यूट्यूब पर नकली करेंसी, नशीली दवाऐं, जाली पासपोर्ट, मानव तस्करी, बिना लाइसेंस के मेडिकल परीक्षण, मेडिकल उपकरण और दवाऐं बनाना व बेचना, बिना लाइसेंस के शराब, सिगरेट और अन्य तम्बाकू उत्पाद बनाना व बेचना, फर्जी दस्तावेज बनाना, घातक हथियार बनाना व बेचना, Credit/Debit Card व बैंक खातों के Password चुराना व बेचना Regulated Goods की श्रेणी में आते हैं। इसीलिए आपके Videos में इस तरह का Content नहीं होना चाहिए :-

अवश्य पढ़ें: Youtube के लिए Top 5 Video Editing Apps जो सबसे Best हैं

  • ऐसे वीडियोज, जिनमें जुआ और सट्टा लगाने वाली Websites का लिंक दिया गया हो। और यूजर्स को उस वेबसाइट पर विजिट करने के लिए प्रेरित किया गया हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें यूजर्स को फर्जी दस्तावेज और नकली Passport बनाने का तरीका बताया गया हो। या किसी ऐसी संस्थान के बारे में बताया गया हो, जहाँँ इस तरह का काम होता हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें एस्कॉर्ट सर्विस, वेश्यावृत्ति और यौन उत्तेजना वाली मालिश के बारे में बताया गया हो। या उसका विज्ञापन किया गया हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें Dark Web पर ‘प्रतिबंधित नशीली दवाऐं’, हथियार और चोरी किए हुए Credit/Debit Cards खरीदते हुए दिखाया गया हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें किसी ऐसी फार्मेसी का लिंक हो, जो बिना चिकित्सकीय सलाह के दवाऐं बेचती हो।

2. Content Featuring Firearms

Youtube पर हथियार, गोला-बारूद आदि प्रदर्शन और प्रचार-प्रसार करना निषिद्ध है। Youtube Community Guidelines के अनुसार निम्नलिखित चीजें Content Featuring Firearms की श्रेणी में आती हैं :-

  • ऐसे वीडियोज, जिनमें बंदूकें, गोला-बारूद और बम (Bumb) बनाने का तरीका बताया गया हो। या फिर हथियारों की क्षमता बढ़ाने वाले उपकरण जैसे कि साइलेंसर/सप्रेसर, बम्प स्टॉक, गैटलिंग और कन्वर्जन किट के बारे में बताया गया हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें बंदूक, गोला-बारूद और बम बेचने वाली किसी वेबसाइट का लिंक, फोन नम्बर और एड्रेस दिया गया हो।
  • ऐसे वीडियोज, जिनमें बंदूक को हाथ में पकड़े हुए, इस्तेमाल करते हुए या एक जगह से दूसरी जगह ले जाते हुए दिखाया गया हो। यहाँ यह जरूरी नहीं है कि वह बंदूक चला रहा हो। वैसे यह नियम Video Games के लिए लागू नहीं है।

Youtube Community Guidelines Strike के नुकसान

वैसे तो ज्यादातर Youtubers को पता है कि Community Guidelines Strike मिलने पर क्या होता है? लेकिन जिनको नहीं पता, उनकी जानकारी के लिए बताना चाहूँगा कि यूट्यूब पर हर Strike का अलग Impact होता है। जैसे कि पहली स्ट्राइक पर एक हफ्ते के लिए Uploading बंद कर दी जाती है। वहीं तीसरी स्ट्राइक पर पूरा Channel ही बंद हो जाता है। खैर, आइए! सभी Strikes को सिलेसिलेवार समझते हैं :-

No Strike, Warning

जब आप पहली बार Youtube Community Guidelines का उल्लंघन करते हैं। तो आपको Strike नहीं दी जाती। बल्कि माफ कर दिया जाता है। क्योंकि Youtube के अनुसार, गलती किसी से भी हो सकती है। इसीलिए पहली गलती पर Strike न देकर एक Warning (चेतावनी) दी जाती है। जिसका आपके Channel पर कोई भी नकारात्मक असर नहीं होता।

First Strike

चेतावनी मिलने के बाद जब आप फिर से Community Guidelines का उल्लंघन करते हैं। तो आपके चैनल पर First Community Guidelines Strike दी जाती है। जिसका Impact यह होता है कि आपके चैनल पर एक हफ्ते के लिए Uploading बंद हो जाती है। यानि कि एक हफ्ते तक आप अपने चैनल पर Videos, Stories, Live Stream, Custom Thumbnails और Community Post कुछ भी नहीं कर पाते। वैसे स्ट्राइक की अवधि 90 दिन होती है। और 90 दिन के बाद यह अपने आप हट जाती है।

Second Strike

अगर First Strike मिलने के बाद 90 दिन के अंदर-अंदर आपके चैनल पर दूसरी Strike आ जाती है। तो 2 हफ्ते के लिए आपकी Uploading बंद हो जाती है। और आप अपने चैनल पर Videos, Stories, Live Stream, Custom Thumbnails और Community Post कुछ भी नहीं कर पाते।

Third Strike

अगर 90 दिन के अंदर-अंदर आपके चैनल पर Third Strike आ जाती हैं। तो आपका Channel हमेशा के लिए बंद हो जाता है। यानि कि आप अपने चैनल पर कभी भी Videos, Stories, Live Stream, Custom Thumbnails और Community Post नहीं कर सकते। ऐसी स्थिति में सिर्फ एक ही विकल्प बचता है, और वह है अपील। यानि कि आप Strike को हटाने के लिए Youtube से अपील कर सकते हैं। कैसे? आइए जानते हैं।

Strike के खिलाफ अपील

आप जब चाहें, Community Guidelines Strike के खिलाफ Appeal कर सकते हैं। और Strike को Remove करवा सकते हैं। लेकिन आपकी बात में दम होना चाहिए। यानि कि आपकी अपील से Youtube को यह लगना चाहिए कि आपका वीडियो वाकई Community Guidelines का उल्लंघन नहीं करता। और उसे जो Strike मिली है, वह बेबुनियाद है। 

अवश्य पढ़ें: Youtube Channel शुरू करते वक़्त इन 5 बातों का जरूर ध्यान रखें

अगर आपका वीडियो Community Guidelines का उल्लंघन नहीं कर रहा। और उसे गलती से Strike मिली है। तो आप बेफिक्र होकर Appeal कर सकते हैं। अपील करने के लिए आपको Strike के साथ एक Link दिया जाएगा। जिस पर क्लिक कर आप अपील कर सकते हैं। अगर आपका वीडियो सच में Community Guidelines का उल्लंघन नहीं करता। तो यकीन मानिए, आपके चैनल से Strike हट जाएगी।

Community Guidelines Strike से कैसे बचें?

अगर आपने उपर Youtube Community Guidelines को ठीक-से पढ़ा है। तो आपको कई जगह लगा होगा कि यह सब बकवास है। क्योंकि Youtube पर ऐसे अनगिनत Videos मौजूद हैं। जो Community Guidelines का खुल्लमखुल्ला मजाक उड़ाते हैंं। लेकिन इसके बावजूद वे Youtube पर मौजूद हैं। और अच्छी-खासी Earning कर रहे हैं।

लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि वे सही हैं और कभी पकड़े नहीं जाऐंगे। अगर आपको मालूम हो तो Youtube के मुट्ठीभर लोग बैठकर रोज लाखों-करोडों Channels और Videos देखते हैं। ऐसे में हरेक वीडियो को बारीकी से देखना लगभग नामुमकिन है। लेकिन अगर जब कोई इस तरह वीडियोज को Report करता है। तो यूट्यूब की तरफ से बाकायदा एक्शन लिया जाता है।

अवश्य पढ़ें: Keyword Research क्या है? कीवर्ड रिसर्च कैसे करें? – SEO

अगर आप चाहते हैं कि आपके चैनल पर कभी भी Community Guidelines Strike न आए! तो हमेशा Community Guidelines का पालन कीजिए। यह मैं खुद के एक्सपीरियंस से बता रहा हूँ। मैंने 2017 में एक वीडियो अपलोड किया था, जिसमें मैंने Subscribers बढाने वाली एक वेबसाइट के बारे में बताया था। वह वीडियो एक साल तक बिना किसी दिक्कत के चलता रहा। लेकिन एक साल बाद किसी ने Report किया। और मेरे चैनल पर Strike आ गई। साथ ही वह Video भी Delete कर दिया गया।

Community Guidelines : Summary

यूट्यूब एक विशाल कम्युनिटी है, जो आप और हम जैसे लोगों से मिलकर बनी है। यानि कि हर वह इंसान, जो Youtube इस्तेमाल करता है, इस Community का हिस्सा है। और इसीलिए हमारी यह जिम्मेदारी है कि हम अपनी कम्युनिटी को साफ-सुथरा रखें। ताकि यह सभी के लिए सुरक्षित और उपयोगी साबित हो। अगर हमारे बच्चे यहाँ आऐं, तो उन्हें कोई भी गलत या गुमराह करने वाली सामग्री न मिले। इसीलिए Youtube ने Report का ऑप्शन दिया। इस ऑप्शन का उपयोग कीजिए। और गलत Content देखते ही Report कीजिए। यह आपका कर्तव्य है।

उम्मीद है इस आर्टिकल के जरिए आपको Youtube Community Guidelines के बारे में काफी कुछ नया जानने को मिला होगा। साथ ही Youtube Community Guidelines Strike क्या है? यह क्यों मिलती है? और इससे कैसे बचें? इस विषय में भी विस्तार से जानने को मिला होगा। अगर यह आर्टिकल आपको पसन्द आया तो इसे Like और Share कीजिए। और ऐसी ही ज्ञानवर्धक जानकारियों के लिए टेकसेवी डॉट कॉम को Subscribe कर लीजिए। ताकि जब भी हम को नया आर्टिकल पब्लिश करें, आपको उसका Notification मिल जाए।

अवश्य पढ़ें (खास आपके लिए) :

“Youtube Community Guidelines Strike क्या है? इससे कैसे बचें?” पर 2 विचार

Comment