You are here : HomeCyber SecurityPhone Hacking

Phone Hack करने के कौन-कौनसे तरीके हैं व इनसे कैसे बचें?

Phone-hack-kaise-kare

फोन हमारा सबसे अच्छा दोस्त ही नहीं, बल्कि सबसे बड़ा दुश्मन भी है। क्योंकि यह हमारे बारे में इतना कुछ जानता है, जितना हम खुद अपने बारे में नहीं जानते। इसीलिए इसकी सुरक्षा हमारी सबसे बड़ी जिम्मेदारी है। लेकिन इसके बावजूद कई लोग फोन की सुरक्षा को लेकर लापरवाही बरतते हैं। जिसकी वजह से उनका Phone Hack हो जाता है। और सारा Data चोरी हो जाता है। उसके बाद उनके Data के साथ क्या-क्या होता है? यह आप सोच भी नहीं सकते। इसीलिए हर स्मार्टफोन यूजर को यह पता होना चाहिए कि आखिर एक Phone को किस तरह Hack किया जाता है? और इससे बचने के लिए क्या-क्या उपाय किए जा सकते हैं?

Phone Hacking

आपका Phone कभी भी आपकी मर्जी के बिना Hack नहीं हो सकता? जी हाँ, बिल्कुल सही सुना आपने। कोई भी आपकी मर्जी के बिना आपका Phone Hack नहीं कर सकता। और न ही आपका Data चोरी कर सकता है। अब आप कहेंगे कि क्या बकवास कर रहे हो? हम भला क्यों चाहेंगे कि हमारा Phone Hack हो? और हमारा Data चोरी हो। तो इसका जवाब मैं आपको बहुत ही आराम से और विस्तार से दूँगा। साथ ही यह भी बताऊँगा कि Phone को Hack करने के कौन-कौनसे तरीके हैं? और उनसे आप कैसे बच सकते हैं? तो आइए, शुरूआत करते हैं।

Phone Hack क्यों किया जाता है?

कभी न कभी आपके मन में यह सवाल जरूर आया होगा कि आखिर हमारा Phone क्यों और किसलिए Hack किया जाता है? और Hackers को ऐसा करके क्या मिलता है? तो इसके लिए आपको अपने Data की अहमियत समझनी होगी। क्योंकि जब तक आप अपने Data की कीमत नहीं जानेंगे! तब तक आपको Data चोरी का यह खेल समझ में नहीं आएगा।

अवश्य पढ़ें: अपने Android स्मार्टफोन की कड़ी सुरक्षा के लिए अपनाइए ये जरूरी 10 टिप्स

आपको बताना चाहूँगा कि 21वीं सदी की सबसे मूल्यवान वस्तु अगर कुछ है, तो वह हमारा Data ही है। इसीलिए हैकर्स की नजर हमेशा हमारे Data पर रहती है। क्योंकि यह बहुत महंगा बिकता है।  इसीलिए Hackers हमारे फोन से जो भी Data चोरी करते हैं, उसे बड़ी-बड़ी कंपनियों को बेच देते हैं। और अच्छे पैसे कमाते हैं। वहीं कुछ हैकर्स ऐसे भी होते हैं, जो Victim को Blackmail करके उससे पैसे ऐंठते हैं। कुल मिलाकर हमारा Data बहुत कीमती होता है। और इसीलिए हमारे Phone को Hack किया जाता है।

Phone Hack करने के तरीके

वैसे तो Phone Hack करने के कई सारे तरीके हैं। लेकिन यहाँ हम सिर्फ उन्हीं तरीकों के बारे में बात करेंगे, जो सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जाते हैं। आपको बताना चाहूँगा कि ज्यादातर Hackers इन्हीं तरीकों का इस्तेमाल करते हैं।

आमतौर पर किसी Phone को हैक करने के लिए उसमें कोई न कोई App या Virus जरूर डाला जाता है। लेकिन User को इसकी भनक तक नहीं लगती। क्योंकि इस तरह के Virus अक्सर छुपकर काम करते है। और अपने पीछे कोई निशान नहीं छोड़ते। जैसा कि पिछले दिनों Agent Smith Virus के केस में हुआ था। इस Virus ने भी इतनी सफाई से काम किया कि Users को पता ही नहीं चला कि उनके फोन में कोई Virus है।

दरअसल इस तरह के Virus फोन में इंस्टॉल होते ही पूरी तरह से गायब जाते हैं। यानि कि अपने आप को छुपा लेते हैं। और Background में चुपचाप अपना काम करते रहते हैं। इसीलिए इन्हें पहचान पाना काफी मुश्किल होता है। लेकिन सवाल यह है कि ये Virus हमारे फोन में आते कैसे हैं? तो इसके कई सारे तरीके हैं। पेश हैं कुछ Popular तरीके…

1. Malicious Apps

Malicious Apps उन ऐप्स को कहा जाता है, जो किसी Virus से संक्रमित होती हैं। इस तरह की ऐप्स में खतरनाक Virus और दुर्भावनापूर्ण Codes छिपे होते हैं, जो Victim के Phone पर कब्जा जमा लेते हैं। और फोन से Data चोरी करके Hacker को भेज देते हैं। लेकिन Victim को इस बात का पता नहीं चलता।

अवश्य पढ़ें: दुनिया की 10 सबसे फालतू और वाहियात Apps, जो हर फोन में देखने को मिल जाती हैं

आमतौर पर इस तरह की Apps किसी Third Party App Store या किसी Website के जरिए उपलब्ध करवाई जाती हैंं। क्योंकि Official App Stores पर इन्हें Allow नहीं किया जाता। इसीलिए इन ऐप्स को काफी रोचक और मनोरंजक बनाया जाता है। ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इन्हें Download करें। और अपनी मर्जी से डाउनलोड करें। वहीं कई बार इन Apps को डाउनलोड करवाने के लिए Rewards और Cash Prizes का भी सहारा लिया जाता है। जिससे कि लोग लालच में आकर इन Apps को बड़ी ही आसानी से Download कर लेते हैं।

2. Phishing

यह पूरी तरह लालच और धोखे का खेल है। इसमें Victim को एक लिंक भेजा जाता है, जिसके साथ एक Message होता है। इस मैसेज में Victim को लालच दिया जाता है। जैसे कि आइफोन, गाड़ी, कैश प्राइज या फिर नौकरी का लालच। साथ ही किसी बड़ी कंपनी का नाम और लोगो इस्तेमाल किया जाता है। ताकि Victim को किसी तरह का कोई शक ना हो। लेकिन जब Victim उस लिंक पर क्लिक करता है, तो वह एक फर्जी Webpage पर पहुंच जाता है। जो कि बिल्कुल असली वेबपेज जैसा होता है। यहाँ Victim को Malicious App डाउनलोड करने के लिए कहा जाता है।

अवश्य पढ़ें: Online Shopping Fraud कैसे किया जाता है व इससे कैसे बचें?

लेकिन इस App का नाम और Description कुछ और होता है। साथ ही App के साथ यह निर्देश लिखा होता है कि इस ऐप को Download करके इस पर Register कीजिए। और अपनी Profile Complete कीजिए। तभी आपको आपका ईनाम या नौकरी (जो भी है) मिलेगी। लेकिन जब Victim उस Malicious App को डाउनलोड करके ओपन करता है तो उससे कई तरह की परमिशन्स मांगी जाती हैंं। और इन परमिशन्स को Allow करते ही Phone Hack हो जाता है।

3. Spam Links

Spam Links के जरिए Phone Hack करना काफी आम बात है। इसके लिए अमूमन Message, Email अथवा Social Media (जैसे कि Facebook, WhatsApp आदि) का इस्तेमाल किया जाता है। इसमें Victim को एक Link भेजा जाता है, जो कि Misspelled अथवा Shorten URL होता है। इसीलिए Victim को पता नहीं चलता कि असल में उस लिंक के पीछे क्या है? लेकिन जब Victim उस लिंक पर क्लिक करता है तो कोई न कोई Infected File या App Download हो जाती है। जो कि फोन के System को हैक कर लेती है।

4. Popups

Browsing के दौरान Popup Messages से खूब पाला पड़ता है। लेकिन कुछ Popups ऐसे होते हैं, जो अचानक-से प्रकट होते हैं और कहते हैं कि आपका फोन खतरे में है। या आपके फोन में खतरनाक वायरस मिला है। इसलिए तुरन्त यह App Download कीजिए और जल्द से जल्द अपने फोन को स्कैन कीजिए। वरना Phone Hack हो जाएगा।

अवश्य पढ़ें: Gmail Confidential Mode क्या है और इसे कैसे इस्तेमाल करें?

साथ ही Popup का Animation ऐसा होता है कि एक नया User तो बेचारा देखते ही डर जाता है। इसीलिए वह झट से उस Malicious App को डाउनलोड कर लेता है। और अपने ही हाथों अपना Phone Hack करवा बैठता है।

5. Email Attachments

इमेल अटैचमेंट्स के जरिए Phone Hack करना काफी आसान होता है। क्योंकि Email एक बेसिक इंटरनेट सर्विस है। इसलिए इसे हर कोई इस्तेमाल करता है। लेकिन कुछ लोग Email के साथ आए Attachment को देखते ही उस पर टूट पड़ते हैं। और फटाफट Download करके देखते हैं कि उसमें क्या है? लेकिन कई बार यह जल्दबाजी बहुत महंगी पड़ती है। जब अटैचमेंट में कोई Virus Infected File निकलती है। और वह सारी Files को Corrupt कर देती है। इसलिए Email Attachments को डाउनलोड करते वक्त सावधानी बरतें।

6. Downloading

जब आपको कोई Photo, Video, Mp3 Song, Document या Software वगैरह डाउनलोड करना होता है तो आप क्या करते हैं? जाहिर-सी बात है! Google पर जाकर Search करते होंगे और Google द्वारा सुझाई गई किसी Website से अपनी File डाउनलोड कर लेते होंगे? है ना? लेकिन क्या आप चैक करते हैं कि वह File असली है या नहीं? क्या आप यह चैक करते हैं कि वह वेबसाइट भरोसे के लायक है या नहीं?

अवश्य पढ़ें: Updates क्या होते हैं? फ़ोन और ऐप्स को Update करना क्यों जरूरी है?

आपको बताना चाहूँगा कि इंटरनेट पर ऐसी बहुत-सी Websites हैं, जहाँ आपको Virus Infected Files मिलती हैं। इन Websites पर आपको Pirated CD/DVDs से लेकर Cracked Softwares तक सब-कुछ मिल जाता है। लेकिन Security नहीं मिलती। इसीलिए जब आप इन Websites से कोई File डाउनलोड करते हैं, तो उसके साथ खतरनाक Trojans मुफ्त मिलते हैं। जो आपका Phone Hack कर लेते हैं।

7. Rooted Phone

बहुत-से लोग अपने Phone की Performance से खुश नहीं होते। इसीलिए वे अपना Phone Root कर लेते हैं। इससे Phone की Performance तो बढ़ जाती है। लेकिन Security खत्म हो जाती है। इसलिए Phone को Hack करना काफी आसान हो जाता है।

आपको बताना चाहूँगा कि एक Root किए हुए Phone में खतरनाक Virus और Trojans का आना आम बात है। और यह बात आपने भी कहीं न कहीं जरूर सुनी होगी कि Rooted Phone में Virus बहुत आते हैं। दरअसल यह बात बिल्कुल सच है। इसलिए अगर आप Rooted Phone इस्तेमाल कर रहे हैं, तो आपका फोन कभी भी हैक हो सकता है।

8. Friends

क्या आपके Friend Circle में कोई ऐसा दोस्त है, जो Technology के बारे में अच्छी जानकारी रखता हो? अगर हाँ, तो उसे कभी भी अपना Phone मत देना। क्योंकि आपका Phone Hack हो सकता है। शायद आपको मेरी बात पर यकीन नहीं हो रहा होगा, लेकिन यह बिल्कुल सच है।

अवश्य पढ़ें: Developer Options क्या है? इसमें कौन-कौनसे Features होते हैं?

ऐसे दोस्त अक्सर Call करने के बहाने फोन मांगते हैं। और फोन पर बात करते-करते दूर चले जाते हैं। और जब आपकी नजरों से ओझल हो जाते हैं, तो फटाफट आपके फोन में Spy Apps Install करके उन्हें Hide कर देते हैं। और फोन आपको वापिस कर देते हैं। उसके बाद आप अपने फोन से Call, Message, Internet Browsing या जो कुछ भी करते हैं, उसकी जानकारी आपके दोस्त को मिलती रहती है। यहाँ तक कि आपने किसको क्या मैसेज भेजा? किससे क्या बातें की? यह सब भी आपके दोस्त को पता चल जाता है।

Phone Hack होने से कैसे बचाऐं?

Phone कभी भी अपने-आप Hack नहीं होता है। बल्कि हमारी गलतियों की वजह से हैक होता है। इसीलिए अगर हम कुछ बातों का ध्यान रखें, तो अपने Phone को Hack होने से बचा सकते हैंं। साथ ही अपने Data को भी हमेशा सुरक्षित रख सकते हैंं। इसीलिए निम्न बातों का हमेशा ध्यान रखें :-

1. ऐप्स हमेशा Official App Store से ही डाउनलोड करें। किसी थर्ड पार्टी App Store अथवा Website से कभी कोई App डाउनलोड न करें।

अवश्य पढ़ें: फोन के खोने या चोरी होने पर CEIR Portal पर सूचना दें, सरकार ढूंढेगी आपका फोन

2. गाड़ी, लॉटरी और कैश प्राइज का दावा करने वाले भ्रामक मैसेजों से दूर रहें। क्योंकि कोई भी किसी को ऐसे ही लाखों-करोड़ों रूपये नहीं देता। इसलिए अपने लालच पर काबू रखें, और विवेक से काम लें।

3. Email अथवा Message में प्राप्त किसी भी Link पर बिना सोचे-समझे क्लिक न करें। अगर भेजने वाला कोई Unknown व्यक्ति है, तब तो बिल्कुल भी नहीं।

4. Browsing के दौरान Popups को कभी भी Allow न करें। और अच्छा होगा, अगर आप Popups को Block कर दें। इसके लिए ब्राउजर की सैटिंग्स में ऑप्शन होता है।

Don’t Use Cracked Apps

5. अपने Phone में कभी भी Cracked Apps और Games न रखें। क्योंकि ये सुरक्षा की दृष्टि से काफी खतरनाक होते हैं। इसीलिए हमेशा Original Apps का ही इस्तेमाल करें।

अवश्य पढ़ें: Naaptol से लीक हो रहा है आपका Personal Data, जरा बचकर रहें

6. Email Attachments को तभी डाउनलोड करें! जब आपको भेजने वाले पर पूरा भरोसा हो। किसी Unknown व्यक्ति द्वारा भेजे गए Email में अगर कोई Attachment है, तो उसे डाउनलोड करने से बचें।

7. हालांकि Phone Root करने के बहुत-से फायदे हैं। लेकिन उतने ही नुकसान भी हैं। इसीलिए बिना वजह अपना Phone Root न करें।

8. जब भी आप किसी दोस्त को फोन दें! तो उसे अपने से दूर न जाने दें। कोशिश करें कि वह जितनी देर तक आपका फोन यूज करे, आपकी नजरों की सामने रहे।

9. अगर कोई App जरूरत से ज्यादा Permissions मांग रही है, जिसकी उसे जरूरत भी नहीं है! तो ऐसी ऐप को इस्तेमाल करने से बचें।

अवश्य पढ़ें: Truecaller का उपयोग करना कितना घातक हो सकता है? और कैसे?

10. वैसे तो आपके फोन को किसी भी Antivirus की कोई जरूरत नहीं है। लेकिन फिर भी अगर आप एंटीवायरस इस्तेमाल करना चाहें, तो कोई अच्छा-सा Paid Antivirus इस्तेमाल करें। क्योंकि Free Antivirus किसी काम के नहीं हैं।

तो ये कुछ उपाय हैं, जिनकी मदद से आप अपने फोन को Hack होने से बचा सकते हैं। और अपने Data को सुरक्षित रख सकते हैं।

Phone Hack : Summary

फोन कभी भी अपने आप Hack नहीं होता है। बल्कि इसके पीछे कहीं न कहीं हमारी ही गलती होती है। इसीलिए कभी भी लालच में आकर अपनी Privacy और Security के साथ खिलवाड़ न करें। और Internet Browsing के दौरान अपनी Privacy का खास ध्यान रखें। मानकर चलिए, आपका Data बहुत कीमती है। और इसकी सुरक्षा करना आपकी जिम्मेदारी है।

उम्मीद करता हूँ इस आर्टिकल के जरिए आपको Phone Hack कैसे किया जाता है? और हम अपने Phone को Hack हैक होने से कैसे बचा सकते हैं? इस विषय में काफी उपयोगी जानकारी मिली होगी? अगर यह आर्टिकल आपको पसंद आया तो इसे Like और Share कीजिए। और ऐसे ही और ज्ञानवर्धक आर्टिकल्स के लिए ‘टेकसेवी डॉट कॉम’ को Subscribe कर लीजिए। ताकि जब भी हमारा नया आर्टिकल प्रकाशित हो, आपको उसका नोटिफिकेशन मिल जाए।

अवश्य पढ़ें (खास आपके लिए) :-

Comment