You are here : HomeExplanationVPN Kya Hai

VPN क्या है और इसे कैसे इस्तेमाल करें? क्या VPN यूज करना जरूरी है?

VPN-Kya-Hai

अगर आप Internet इस्तेमाल करते हैं तो आपने VPN का नाम जरूर सुना होगा। क्योंकि आजकल यह काफी डिमांड मेंं है। और जहाँ भी इंटरनेट की सुरक्षा को लेकर बात होती है, वहाँ वीपीएन का नाम जरूर लिया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह वीपीएन होता क्या है? और यह क्यों इतना जरूरी है? अगर नहीं जानते तो कोई बात नहीं। क्योंकि आज हम इसी के बारे में बात करने वाले हैं। तो आइए जानते हैं कि VPN Kya hai? यह क्यों जरूरी है? और इसे कैसे इस्तेमाल करें? साथ ही दुनिया की सबसे Best VPN Services कौन-कौनसी हैं?

VPN (वीपीएन)

पिछले एक-डेढ दशक में Internet का उपयोग काफी तेजी से बढ़ा है। यहाँ तक कि पैसों का लेन-देन, खरीददारी, बैंकिंग, व्यवसाय और ट्रेडिंग जैसी तमाम सेवाऐं Online हो गई हैंं। ऐसे में चोर-लुटेरे भला क्यों पीछे रहेंगे? वे भी इंटरनेट पर आ गए हैं। और Online ठगी को अपना नया व्यवसाय बना लिया है। साथ ही ठगी के ऐसे-ऐसे तरीके खोज लिए हैं कि पूछो मत। इसीलिए Online Security और Privacy एक बड़ी समस्या बन गई है। और इस समस्या को दूर करने के लिए कुछ सुरक्षा उपाय खोजे गए हैं। जिनमें में से एक उपाय है VPN (वीपीएन)।

VPN Kya Hai

VPN यानि कि Virtual Private Network एक ऐसी Network Technology है जो असुरक्षित नेटवर्क को सुरक्षित नेटवर्क में बदलने का काम करती है। साथ ही User की वास्तविक Location और Identity को छुपाने में मदद करती है। यानि कि VPN आपकी पहचान को पूरी तरह गोपनीय रखता है। और आपके Data को Hack होने से बचाता है। साथ ही यह आपके Freedom of internet के अधिकारों की रक्षा करता है। और आपको प्रतिबंधित सेवाओं और वेबसाइटों तक पहुंचने की इजाजत देता है।

अवश्य पढ़ें: क्या आपके फोन का IMEI Number वैलिड है? पता कीजिए इन 3 तरीकों से

VPN काम कैसे करता है?

जब आप अपने Browser में किसी Website का URL डालकर OK प्रेस करते हैं। तो सबसे पहले आपकी Request आपके ISP यानि कि Internet Service Provider के पास जाती है। जहाँ आपकी Online Identity, Device ID, Location और Data Request जैसी तमाम Details चैक की जाती हैंं। और उसके बाद आपको उस वेबसाइट के Server से जोड़ा जाता है। उसके बाद आपके और उस वेबसाइट के बीच जो भी Data का आदान-प्रदान होता है, वह सब ISP के जरिए ही होता है। ऐसे में आपका कोई भी Data गोपनीय नहीं रहता।

Internet-Connection-Local-Network
Internet Connection Without VPN

इसके अलावा आपका Network भी पूरी तरह Secure नहीं रहता। जिससे कि हर पल Data चोरी होने का खतरा रहता है। साथ ही Restriction भी एक बड़ी समस्या है। जो आपको Blocked Websites को Access करने से रोकती है। कुल मिलाकर आपको Freedom, Privacy और Security जैसी समस्याओं से जूझना पड़ता है। लेकिन VPN इन सारी समस्याओं का समाधान है। क्योंंकि VPN की कार्यप्रणाली बिल्कुल अलग है। कैसे? आइए, समझने की कोशिश करते हैं।

अवश्य पढ़ें: Password को Hack कैसे किया जाता है व Safety के लिए क्या उपाय करें?

VPN की कार्यप्रणाली

मान लीजिए कि आप अपने Smartphone के Browser से मेरी यह वेबसाइट ओपन करना चाहते हैं। तो जैसे ही आप techsevi.com टाईप करके OK प्रेस करेंगे। आपकी Request सीधे VPN Server के पास जाएगी। और आपके फोन से जो Request के रूप में Data Traffic जाएगा, वह पूरी तरह Encrypted होगा। और एक Secure Tunnel के जरिए भेजा जाएगा। साथ ही आपकी ऑनलाइन Identity बिल्कुल गुप्त रहेगी। क्योंकि Data Traffic आपके Smartphone की बजाय VPN Server से भेजा जाएगा।

How-Does-VPN-Works
Internet Connection With VPN

लेकिन जैसे ही आपका डाटा VPN Server के पास जाएगा, वह Decrypt हो जाएगा। उसके बाद VPN आपकी Request को techsevi.com के Server पर भेजेगा। और वहाँ से जवाब प्राप्त करके उसे वापिस Encrypt कर देगा। और अपने सुरक्षित कनेक्शन के जरिए आपके फोन पर भेज देगा। अब आपके फोन में जो VPN Software है, वह उस डाटा को Decrypt कर देगा। ताकि आप उसे पढ़ सकें। इस तरह आपके ISP को कभी पता नहीं चलेगा कि आपने किस वेबसाइट पर विजिट किया और वहाँ क्या-क्या Activities की?

अवश्य पढ़ें: ऑनलाइन शॉपिंग Fraud कैसे किया जाता है व इससे कैसे बचें? साइबर सिक्योरिटी

VPN Protocol क्या है?

VPN Protocol नियमों का वह सेट है, जो VPN Client और VPN Server के बीच Connection स्थापित करने के लिए उपयोग किया जाता है। ताकि VPN Client और VPN Server के बीच सुरक्षित रूप से Data का आदान-प्रदान हो सके। वर्तमान में वीपीएन सेवा प्रदाताओं द्वारा इन VPN Protocols का उपयोग किया जा रहा है :- PPTP, SSTP, L2TP/IPSec, IKEv2/IPSec, IPSec, OpenVPN, SoftEther और Wireguard. लेकिन Wireguard फिलहाल Experimental Phase में है।

वीपीएन कैसे Use करें?

बहुत आसान है। एक बढ़िया VPN Service Provider का चुनाव कीजिए। और उसकी वेबसाइट पर जाकर अपने System के हिसाब से VPN Software Download कर लीजिए। अगर आप Smartphone इस्तेमाल कर रहे हैं तो App Store में जाकर मोबाइल ऐप Download कर लीजिए। वहीं अगर आप चाहें तो Chrome Extension भी Download कर सकते हैं। खैर, उसके बाद अपना एक VPN Account बनाइए और उसमें Login कर लीजिए। लो जी! बधाई हो! अब आप VPN Use करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।

अवश्य पढ़ें: Credit और Debit Card की डिटेल्स कैसे चुराई जाती है व इससे कैसे बचें?

बस अपना मनपसंद VPN Server अथवा Location Select कीजिए। और Connect हो जाइए Internet एक ऐसी दुनिया से, जहाँ न कोई आपको पहचान सकता है। और न ही आपके उपर नजर रख सकता है। न कोई आपका Data चोरी कर सकता है। और न ही आपको किसी Website तक पहुंचने से रोक सकता है। मतलब, यह आपकी दुनिया है; सिर्फ आपकी। और आप इसके राजा हैं। पूरी तरह आजाद, स्वतंत्र और बेफिक्र। इसलिए दिल से महसूस कीजिए, इंटरनेट की इस आजादी को। यही है The Freedom of Internet.

वीपीएन किसे Use करना चाहिए?

वैसे तो हर उस शख्स को VPN इस्तेमाल करना चाहिए, जो Internet यूज करता है। लेकिन अगर आप Normal Browsing या हल्के-फुल्के मनोरंजन के लिए Internet इस्तेमाल करते हैं। तो वीपीएन आपके लिए उतना ज्यादा जरूरी नहीं है। पर अगर आप Online Banking, Trading, Cryptocurrency, Government Agency, Security Firm, Data Center अथवा संवेदनशील सूचनाओं से जुड़ा कोई काम करते हैं। तो वीपीएन आपके लिए जरूरी ही नहीं बल्कि अनिवार्य है। और ऐसे कामों के लिए आपको हर हाल में VPN यूज करना ही चाहिए।

अवश्य पढ़ें: Developer Options क्या है? इसका हमारे फोन में क्या उपयोग है? टॉप फीचर्स

इसके अलावा अगर आप इंटरनेट ब्राउजिंग के दौरान खुद को सुरक्षित रखना चाहते हैं। या फिर Blocked Websites को Access करना चाहते हैं, तो भी VPN आपके लिए जरूरी है। अब आप खुद तय कर सकते हैं कि VPN Use करना आपके लिए जरूरी है या नहीं।

वीपीएन के फायदे

अगर एक User के दृष्टिकोण से देखें तो VPN के बहुत सारे फायदे हैं। लेकिन यहाँ सबका जिक्र कर पाना संभव नहीं है। इसीलिए मैं सिर्फ 5 फायदों के बारे में बात करूँगा, जो कि सबसे महत्वपूर्ण हैं। और इनके बारे में हर VPN User को पता चाहिए। तो आइए, जानते हैं Top-5 Advantages of VPN

1. Privacy

जो लोग अपनी Privacy को लेकर हमेशा चिंतित रहते हैं। उनके लिए वीपीएन एक बहुत ही अच्छा विकल्प है। क्योंकि VPN User की वास्तविक Location और Identity को छुपा देता है। साथ ही उसके IP Address को भी Hide कर देता है। जिससे कि वह पूरी तरह Anonymous रहकर अपना काम कर सकता है। यानि कि उसने किस वेबसाइट पर विजिट किया? वहाँ क्या देखा? क्या डाउनलोड किया? यह किसी को पता नहीं चलता।

2. Security

इंटरनेट का एक सच यह भी है कि यहाँ आए दिन Online Fraud, Scam, Hacking और Data चोरी जैसी खबरें सुनने को मिलती हैं। ऐसे में वीपीएन यूज करना और भी जरूरी हो जाता है। क्योंकि VPN आपको ऑनलाइन सुरक्षा प्रदान करता है। यह आपको Secure Connection उपलब्ध करवाता है। साथ ही आपके Data को Encrypt करके उसे Hackers से बचाता है।

अवश्य पढ़ें: Truecaller का उपयोग करना कितना घातक हो सकता है? और कैसे?

3. High Performance

आपने कुछ खास Websites पर Slow Internet Speed का अनुभव जरूर किया होगा। दरअसल इसे Bandwidth Throttling या Data Throttling कहा जाता है। यह आपके Internet Connection को Slow कर देता है। जिससे Performance पर काफी बुरा असर पड़ता है। लेकिन VPN इस समस्या को दूर करने में सक्षम है। क्योंकि वीपीएन आपके Internet Traffic को Encrypt कर देता है, जिससे आपको High Performance मिलती है।

4. Bypass Restriction

वीपीएन ISP द्वारा लगाए गए Restrictions को Bypass करके प्रतिबंधित सेवाओं को Access करने की अनुमति देता है। साथ ही Geographical Restrictions को भी Bypass कर देता है। जिससे आप उन Websites को भी Access कर सकते हैं, जो आपके देश में प्रतिबंधित हैं। जैसे कि अगर मैं इस आर्टिकल की Visibility भारत कर दूँ तो यह सिर्फ भारत में ही दिखाई देगा। अन्य किसी देश में दिखाई नहीं देगा। लेकिन VPN की मदद से इसे कहीं से भी, किसी भी देश से देखा जा सकता है

5. Freedom of Internet

जो लोग इंटरनेट की आजादी (Freedom of Internet) में विश्वास रखते हैं, उनके लिए वीपीएन किसी वरदान से कम नहीं है। क्योंकि VPN सेंसरशिप से बचाता है। और पूरी आजादी के साथ इंटरनेट यूज करने में मदद करता है।

अवश्य पढ़ें: Champcash क्या है? इससे Unlimited Earning कैसे कर सकते हैं? 10 तरीके

Best VPN Service

अब सवाल आता है सबसे Best VPN के चुनाव का। तो आपको मालूम होगा कि इस वक्त मार्केट में बहुत-सारे VPNs हैं। और सबकी अपनी-अपनी विशेषताऐं हैं। लेकिन आपको सिर्फ यह देखना है कि आप जिस Service के लिए भुगतान कर रहे हैं, वह आपको मिल रही है या नहीं? अगर मिल रही है तो किस कीमत पर? अलग-अलग VPNs के बीच तुलना कीजिए और सबसे किफायती VPN Service का चुनाव कीजिए। साथ ही Device Competibility, Server Locations और VPN Protocol की जानकारी भी आवश्यक है।

Top-5 VPNs In 2020

खैर, अब बात करते हैं उन पाँच VPNs के बारे में, जो इस वक्त सबसे अच्छी सर्विस दे रहे हैं।

  1. Express VPN
  2. Nord VPN
  3. CyberGhost
  4. PrivateInternetAccess
  5. IPVanish

जहाँ तक हो सके, Free VPN के चक्कर में कभी न पड़े। क्योंकि यह आपको काफी महंगा पड़ सकता है। इतना महंगा कि आप अपनी Privacy और Data बेचकर भी इसकी कीमत नहीं चुका सकते। इसलिए बेहतर यही है कि हमेशा Paid VPN ही इस्तेमाल करें। क्योंकि Free VPN में न तो आपको पूरे Features मिलते हैं, और न ही Privacy. उपर से Data की सुरक्षा हमेशा दांव पर लगी रहती है, सो अलग। फिर ऐसे VPN को यूज करने का क्या फायदा?

उम्मीद करता हूँ इस आर्टिकल के जरिए आपको VPN Kya Hai और इसे कैसे इस्तेमाल करें? इस विषय में काफी उपयोगी जानकारी मिली होगी। अगर इस टॉपिक को लेकर आपके मन में कोई सवाल है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं। अगर यह आर्टिकल आपको पसंद आया तो इसे Like और Share कीजिए। और ऐसे ही और ज्ञानवर्धक आर्टिकल्स के लिए टेकसेवी डॉट कॉम को Subscribe कर लीजिए। ताकि जब भी कोई नया आर्टिकल प्रकाशित हो, तो आपको उसका नोटिफिकेशन मिल जाए।

अवश्य पढ़ें (खास आपके लिए) :-

Comment