You are here : HomeExplanationUSB

USB क्या है? USB Types और Versions की कम्पलीट जानकारी

USB-Kya-Hai

आज यूएसबी केबल लगभग हर घर में आसानी से देखने को मिल जाती है। क्योंकि फोन और बाकी गैजेट्स को चार्ज करने के लिए रोज इसकी जरूरत पड़ती है। लेकिन यूएसबी के भी अलग-अलग Types और Versions होते हैं। जैसे कि USB Type-A, B, C और Version 2.0, 3.0, 3.1, 4 आदि। लेकिन क्या आपको पता है कि इन अलग-अलग Types और Versions का क्या मतलब है? और इनमें फर्क क्या है? अगर नहीं पता, तो यह आर्टिकल खास आपके लिए है। क्योंकि इस आर्टिकल में इसी विषय पर विस्तार से जानकारी दी गई है। इसीलिए इसे पूरा पढ़िएगा।

USB क्या है?

यूएसबी का फुल फॉर्म है Universal Serial Bus. अर्थात् एक ऐसा टूल, जो विभिन्न डिवाइसेज को आपस में Connect करने और उनके बीच Power व Data Transfer करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। यह दरअसल एक Industry Standard है, जो विभिन्न Devices के बीच Connection स्थापित करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

अवश्य पढ़ें : NFC क्या है? इसे कैसे Use करें? हमारे फोन में NFC का क्या उपयोग है?

आमतौर पर यूएसबी का उपयोग Computer से बाह्य उपकरणों (जैसे कि Mouse, Keyboard, Printer, Scanner, Flash Drive, Media Player आदि) को जोड़ने के लिए किया जाता है। साथ ही विभिन्न उपकरणों को चार्ज करने के लिए भी इसका व्यापक स्तर पर इस्तेमाल किया जाता है। जैसे कि फोन, कैमरा, स्मार्टवॉच, फिटनेस बैंड्स, पॉवर बैंक्स, Mp3 प्लेयर्स, वीडियो गेम्स, ब्लूटूथ स्पीकर्स आदि। यूएसबी एक Plug and Play (PnP) डिवाइस है, जो कनेक्ट होते ही अपने आप काम करना शुरू कर देता है।

यूएसबी का संक्षिप्त परिचय

यूएसबी की खोज होने से पहले बाह्य उपकरणों को Computer से जोड़ना किसी सिरदर्द से कम नहीं था। क्योंकि उस वक्त सभी उपकरणों के लिए अलग-अलग Ports और Connectors इस्तेमाल किए जाते थे। यानि कि कम्प्यूटर के पीछे सिर्फ Ports ही Ports नजर आते थे। इसीलिए ऐसे Standard की जरूरत महसूस हुई, जो इन सभी Ports को हटाकर Connection प्रक्रिया को आसान बना सके।

अवश्य पढ़ें: Internet क्या है? यह कैसे काम करता है? इंटरनेट का मालिक कौन हैं?

इसी उद्देश्य को लेकर 1994 में Microsoft, Intel, IBM, Compaq, DEC, NEC और Nortel – इन सात कंपनियों ने मिलकर यूएसबी पर काम करना शुरू किया। और 1996 में यूएसबी का पहला वर्जन 1.0 रिलीज किया, जो सफल रहा। वैसे यूएसबी की खोज का श्रेय श्री अजय भट्ट जी को जाता है, जिन्होंने Intel कंपनी में रहकर यूएसबी Standard पर काम किया। यूएसबी को USB Implementers Forum (USB-IF) द्वारा Mainten किया जाता है।

USB Ports

यूएसबी पोर्ट उस जगह को कहते हैं, जहाँ यूएसबी को Insert किया जाता है। जैसे कि आपके Phone में चार्जिंग केबल Insert करने के लिए जो जगह दी गई है, वह असल में एक USB Port है। आपको बताना चाहूँगा कि एक डिवाइस में एक या एक से अधिक USB Ports हो सकते हैं। जैसे कि लैपटॉप में अक्सर 4-5 यूएसबी Ports देखने को मिलते हैं। 

USB Versions

यूएसबी के अलग-अलग Versions अलग-अलग Speed को परिभाषित करते हैं। 1996 में यूएसबी का पहला वर्जन USB 1.0 रिलीज हुआ, जिसकी अधिकतम स्पीड 12 Mbps थी। उसके बाद नये Versions में यूएसबी की Speed काफी तेजी से बढ़ी, जो आज 40 Gbps तक पहुंच चुकी है। खैर, आइए यूएसबी के मुख्य Versions पर एक नजर डालते हैं।

अवश्य पढ़ें: VPN क्या है और इसे कैसे इस्तेमाल करें? क्या VPN यूज करना जरूरी है?

USB 1.0

यह यूएसबी का सबसे पहला वर्जन था, जिसे 1996 में रिलीज किया गया था। इसकी अधिकतम स्पीड (Data Transfer Rate) 1.5 Mbps थी। हालांकि आज के दिन यह स्पीड बहुत कम है। लेकिन उस वक्त के हिसाब से ठीक थी। क्योंकि उस वक्त न तो इतने Advanced Computers थे। और न ही Fast Internet. ऐसे में 1.5 Mbps की Speed उस वक्त के हिसाब से ठीक थी।

USB 1.1

उसके बाद 1998 में यूएसबी का नया वर्जन USB 1.1 रिलीज किया गया, जो यूएसबी 1.0 से कहीं Fast था। इसीलिए इसे Full Speed का नाम दिया गया। अगर DTR (Data Transfer Rate) की बात करें, तो यूएसबी 1.1 की अधिकतम स्पीड 12 Mbps थी, जो उस वक्त के हिसाब से काफी अच्छी थी। लेकिन जैसे-जैसे Technology Advanced होती गई, यह स्पीड भी कम पड़ने लगी। इसीलिए यूएसबी का नया Version 2.0 रिलीज किया गया।

USB 2.0

2000 में यूएसबी का नया वर्जन USB 2.0 रिलीज हुआ, जो अब तक का सबसे Fast USB था। इसकी अधिकतम स्पीड 480 Mbps तक पहुंच गई जो काफी ज्यादा थी। इसीलिए इसे High Speed का नाम दिया गया। हालांकि इसके बाद और भी कई Versions आए, लेकिन यूएसबी 2.0 जितने पॉपुलर नहीं हुए। दरअसल यूएसबी 2.0 अब तक का सबसे पॉपुलर और सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला Version है, जो आज भी बड़े पैमाने पर इस्तेमाल हो रहा है।

अवश्य पढ़ें: Nano Diamond Battery एक बार चार्ज करने पर 28000 साल चलेगी

USB 3.0

2008 में यूएसबी का नया वर्जन USB 3.0 रिलीज हुआ, जो अब USB 3.1 Gen 1 और 3.2 Gen 1×1 के नाम से जाना जाता है। इसकी अधिकतम स्पीड 5 Gbps है, जो काफी Fast है। इसीलिए इसे Superspeed के नाम से जाना जाता है। हालांकि लॉन्चिंग के वक्त इसका नाम USB 3.0 था। लेकिन बाद में बदलकर USB 3.1 Gen 1 और उसके बाद 3.2 Gen 1x 1 कर दिया गया।

USB 3.1

दरअसल USB 3.1 अब USB 3.1 Gen 2 और 3.2 Gen 2×1 के नाम से जाना जाता है। इसे 2013 में लॉन्च किया गया था। इसकी अधिकतम स्पीड 10 Gbps है। यानि कि पिछले वर्जन के मुकाबले दो गुना अधिक। इसीलिए इसे Superspeed+ के नाम से जाना जाता है। इसके साथ एक Connector भी लॉन्च किया गया, जो आजकल काफी पॉपुलर है। यानि कि मैं USB Type-C की बात कर रहा हूँ।

USB 3.2

2017 में यूएसबी का एक और नया वर्जन USB 3.2 रिलीज हुआ, जो USB 3.2 Gen 1×2 और 3.2 Gen 2×2 के नाम से जाना जाता है। इसकी अधिकतम स्पीड 20 Gbps है, जो काफी ज्यादा है। हालांकि Speed यूएसबी 3.1 के मुकाबले दुगुनी है। लेकिन इसे भी Superspeed+ के नाम से ही जाना जाता है। 

USB 4

2019 में यूएसबी का नया वर्जन USB 4 रिलीज हुआ, जो अब तक का सबसे Fastest वर्जन है। इसकी अधिकतम स्पीड 40 Gbps है। साथ ही इसमें Thunderbolt का सपोर्ट दिया गया है। इसीलिए इसे Superspeed+ and Thunderbolt के नाम से जाना जाता है। यह यूएसबी का सबसे Latest Version है।

अवश्य पढ़ें: Adaptive Battery फीचर क्या है और यह कैसे काम करता है?

दरअसल यूएसबी के अलग-अलग Versions अलग-अलग Speed को दर्शाते हैं। इसीलिए मैंने Technical Specifications में न उलझाकर सीधे-सीधे Speed के बारे में बताया है। साथ ही नये नामों की जगह पुराने नाम इस्तेमाल किए हैं, ताकि आपको कोई कन्फ्यूजन न हो। क्योंकि नये नामों की वजह से Users को काफी कन्फ्यूजन होता है। इसलिए 3.0, 3.1 और 3.2 लिखा है। उम्मीद है आपको सभी Versions अच्छे-से समझ आ गए होंगे। खैर, आगे बढ़ते हैं और USB Connectors के बारे में जानते हैं।

Connectors

आपको बताना चाहूँगा कि USB Versions और Connectors बिल्कुल अलग-अलग हैं। इनका आपस में कोई लेना-देना नहीं है। USB Versions जहाँ Speed को परिभाषित करते हैंं। वहीं Connectors यूएसबी के अलग-अलग प्रकारों (Types) को संदर्भित करते हैं। यूएसबी के 3 मुख्य प्रकार (Types of USB) हैं :-

USB Type A

यह यूएसबी का सबसे कॉमन और सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला प्रकार है, जो आपको हर जगह देखने को मिल जाता है। यहाँ तक कि आप जिस केबल से आप अपना Phone Charge करते हैं, उसका एक सिरा भी USB Type A ही होता है। वैसे लैपटॉप, कम्प्यूटर, Mobile Charger, Pendrive आदि में यूएसबी Type A आसानी से देखने को मिल जाता है।

USB-Type-A
USB Type-A Connector

Type-A Mini

नये Connectors आने के बाद USB Type-A Mini बहुत ही कम या कह लीजिए कि ना के बराबर देखने को मिलता है। यूएसबी Type A Mini पोर्ट कुछ इस तरह का दिखाई देता है :-

USB-Type-A-Mini-And-Micro
USB Type-A Mini & Micro (Credit: Wikimedia)

Type-A Micro

दरअसल USB Type-A Micro अब करीब-करीब लुप्त हो चुका है। यानि कि अब यह मुश्किल से ही देखने को मिलता है। क्योंकि आजकल इसका इस्तेमाल नहीं के बराबर होता है। यूएसबी Type-A Micro पोर्ट उपर चित्र में दिखाया गया है।

अवश्य पढ़ें: Developer Options क्या है? इसे कैसे Use करें? टॉप फीचर्स

USB Type B

USB Type-B ज्यादातर Printers में देखने को मिलता है। अगर आपके पास Computer या Laptop है, तो उसमें आपको यह आसानी से देखने को मिल जाएगा। लेकिन यह उतना ज्यादा इस्तेमाल नहीं होता, जितना कि यूएसबी Type-A इस्तेमाल होता है। इसीलिए यह आसानी से देखने को नहीं मिलता। आपको बताना चाहूँगा कि यूएसबी Type-B आकार में काफी छोटा और चौकोर (वर्गाकार) होता है। जैसा कि इस चित्र में दिखाया गया है :-

USB-Type-B
USB Type-B Connector

Type-B Mini

USB Type-B Mini पुराने Phones में खूब देखने को मिलता था। लेकिन आजकल इसका इस्तेमाल काफी कम हो गया है। यानि कि अब यह बहुत ही मुश्किल से देखने को मिलता है। असल में यूएसबी Type-B Mini कुछ ऐसा दिखता है:-

USB-Type-B-Mini
USB Type-B Mini

Type B Micro

आजकल Smartphone से Camera, और Power Bank से लेकर Smart Watch तक हर Gadget में USB Type-B Micro पोर्ट ही देखने को मिलता है। यह दरअसल एक पॉपुलर कनेक्टर है, जो काफी समय से इस्तेमाल हो रहा है। हालांकि अब यूएसबी Type-C का चलन शुरु हो गया है, लेकिन फिर भी यूएसबी Type-B Micro बड़े पैमाने पर इस्तेमाल होता है। यह कुछ ऐसा दिखता है :-

USB-Type-B-Micro
USB Type-B Micro

USB Type C

USB Type-C सबसे लेटेस्ट और Fastest कनेक्टर है, जो 2013 में लॉन्च हुआ था। यह एक Reversible Connector है। यानि कि इसे उल्टा और सीधा, दोनों तरफ से इस्तेमाल किया जा सकता है। यह यूएसबी का भविष्य है। यानि कि आने वाले समय में हर Device में Type-C Port ही देखने को मिलेगा। और इसकी शुरुआत Already हो चुकी है। दरअसल आजकल Smartphones के साथ-साथ Laptops और बाकी उपकरणों में भी Type-C Port आने लगा है।

USB-Type-C
USB Type-C Connector

Lightning Connector

यह दरअसल Apple का खुद का Connector है, जो सिर्फ Apple के Products में ही देखने को मिलता है। यानि कि iPhones, iPads और iPods में ही देखने को मिलता है। यह यूएसबी कनेक्टर नहीं है। यानि कि इसका यूएसबी से कोई लेना-देना नहीं है। यह Apple का अपना Standard है, जिसे 12 सितम्बर 2012 को लॉन्च किया था।

Apple-Lightning-Connector
Apple Lightning Connector

Colour Codes

आपने देखा होगा कि सारे यूएसबी पोर्ट्स एक रंग के नहीं होते। यानि कि अलग-अलग रंगों के होते हैं। लेकिन सवाल यह है कि क्यों? आखिर इन रंगों का मतलब क्या है? तो इसका मतलब यह है कि अलग-अलग रंग, अलग-अलग Versions और Speed को दर्शाते हैं। यानि कि Black और White कलर यूएसबी 2.0 के लिए और Blue कलर यूएसबी 3.0 और 3.1 के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

अवश्य पढ़ें: Phone Hack करने के कौन-कौनसे तरीके हैं व इनसे कैसे बचें?

रही बात Red और Yellow कलर की, तो ये दरअसल Power के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं। आमतौर पर यूएसबी 2.0 का Type-A पोर्ट White या Black कलर का होता है। जिसका स्टैंडर्ड Power Output 0.5 एम्पियर होता है। लेकिन कुछ डिवाइसेज को ज्यादा पॉवर की जरूरत होती है। इसीलिए ज्यादा पॉवर वाला Port दिया जाता है, जिसे Red या Yellow कलर से दर्शाया जाता है। ताकि उपयोगकर्ता को समझने में आसानी हो।

इसी तरह यूएसबी 3.0 और 3.1 का Standard कलर Blue है। लेकिन अधिक पॉवर वाले Ports के लिए Red और Yellow कलर इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि कुछ कंपनियाँँ इस Standard को फॉलो नहीं करती। इसीलिए Colours के मामले में मतभेद भी देखने को मिलते हैं। यानि कि Low Power के Ports भी Red और Yellow कलर के देखने को मिलते हैं। लेकिन ऐसा बहुत ही कम होता है।

Summary

इस आर्टिकल में आपने USB Kya Hai? USB Types In Hindi और USB Version In Hindi के साथ-साथ USB Colour Codes के बारे में विस्तार से जाना। शायद अब आप किसी भी यूएसबी पोर्ट को देखते ही पहचान लेंगे कि वह कौनसा Port है? और उसका Version क्या है? साथ ही उसकी अधिकतम Speed कितनी है?

उम्मीद है यह जानकारी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। अगर यह आर्टिकल आपको पसंद आया तो इसे Like और Share कीजिए। और ऐसी ही ज्ञानवर्धक जानकारियों के ‘टेकसेवी डॉट कॉम’ को Subscribe कर लीजिए। ताकि जब भी हम कोई नया आर्टिकल पब्लिश करें, आपको उसका नोटिफिकेशन मिल जाए।

अवश्य पढ़ें (खास आपके लिए) :-

Comment